विशेष

पायलट अभिनंदन के पिता ने लिखा भावुक लेटर, कहा-‘दुश्मन से लोहा लेने वाला मेरा बेटा सच्चा सिपाही’

पाकिस्तान के लड़ाकू विमान को खदेड़ने के लिए इंडियन एयरफोर्स ने विंग कमांडर अभिनंदन को इस काम की जिम्मेदारी दी. विंग कमांडर अभिनंदन पाकिस्तान के F-16 को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए अपने मिग-21 लेकर उसके पीछे गए. ऐसा माना जाता है कि अभिनंदन मिग-21 के लिए मास्टर हैं और इसलिए इतनी बड़ी जिम्मेदारी उन्हे दी गई. उसका पीछा करते-करते वो पीओके पहुंच गए और पाकिस्तानी सेना ने उन्हें पकड़ लिया. इसके लिए पूरा देश उनके वापस आने की प्रार्थना कर रहा है लेकिन उनके पिता का सीना गर्व से चौड़ा हो रहा है. पायलट अभिनंदन के पिता ने लिखा भावुक लेटर, उसमें उनके पिता सिम्हाकुट्टी वर्धमान ने सारी बातें लिखीं.

पायलट अभिनंदन के पिता ने लिखा भावुक लेटर

विंग कमांडर अभिनंदन के पिता सिम्बाकुट्टी वर्धमान वायुसेना में एयर मार्शल रह चुके हैं और सोशल मीडिया पर उनका ये पत्र वायरल हो गया है. उस लेटर में अभिनंदन के पिता ने लिखा, ”मुझे मेरे बेटे पर गर्व है. हम भगवान के शुक्रगुजार हैं कि वो जिंदा है, वो शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ है.” अपने बेटे पर फक्र करते हुए उन्होने लिखा, ”देखो मेरा बेटा कितनी निडरता के साथ बात कर रहा है. एक सच्चे सिपाही की तरह और मुझे उसपर गर्व है.” उन्होने विश्वास जताते हुए कहा कि वो बहुत जल्दी घर वापसी करेगा. उन्होने सभी हमदर्दों का धन्यावाद किया और कहा इस कठिन घड़ी में उनका साथ और दुआएं उनके परिवार को ताकत दे रही है. इस तरह की बातों से कमांडर अभिनंदन को भी हिम्मत मिलेगी अगर वो इसके बारे में सुनेंगे.

जिस आदमी का बेटा पाकिस्तान सेना के कब्जे में है और वो इस तरह का लेटर लिख रहा है तो सोचिए उसके बेटे यानी विंग कमांडर अभिनंदन के अंदर कितना हौसला होगा. विग कमांडर पाकिस्तानी सेना के पास बैठे हैं और उनका एक-दो वीडियो भी आया है जिसमें वो बेबाक होकर उनके सवालों का जवाब दे रहे हैं इससे पता चलता है जो शेर होता है वो असल में गीदड़ों से नहीं डरता.

क्या हुआ था 27 फरवरी के दिन ?

26 तारिख को हुई भारतीय वायुसेना की तरफ से एयर सर्जिकल स्ट्राइक से  पाकिस्तान बौखला गया है और इसके जवाबी कार्यवाही में उन्होने 27 फरवरी को अपना F-16 भारत भेजा. उसे खदेड़ने के लिए विंग कमांडर अभिनंदन अपने मिग-21 के साथ गए और उस F-16 को मार गिराया लेकिन ऐसा करने में वो पीओके पार कर गए और पाकिस्तानी सेना की नजर में आ गए. उन्होने भारत का मिग-21 मार गिराया और पायलट अभिनंदन ने पैराशूट के जरिए पीओके में लैंड किया लेकिन किसी तरह वो पाकिस्तानी सेना के कब्जे में आ गए. इसके बाद उन्होंने अभिनंदन को गिरफ्तार कर लिया और खूफिया जगह ले जाकर पूछताछ कर रहे हैं. इसपर भारत ने कहा है कि पाकिस्तान हमारे पायलट का कुछ नहीं बिगाड़ सकती और एक हफ्ते में उन लोगों को विंग कमांडर अभिनंदन को छोड़ना होगा.

Show More
Back to top button