पुलवामा अटैक में शहीदों की बेटियों को गोद लेगीं बिहार की ये DM, जीवनभर उठाएंगी उनका खर्च

14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आंतकी हमले में 40 सीआरपीएफ जवान शहीद हुए. इसकी जिम्मेदारी पाकिस्तानी आतंकी जैश-ए-मोहम्मद ने ली. ये जानने के बाद से ही पूरा देस गुस्से में है, और हर कोई पाकिस्तान से बदला लेना चाहते हैं. इस हमले में 40 लोग शहीद हुए और ज्यादातर लोगों के बच्चे छोटे हैं और उनके परिवार वालों का सहारा थे. इनकी मदद के लिए देशभर से लोग आगे आ रहे हैं और इसमें कुछ पॉलिटीशियन्स, खिलाड़ी और बॉलीवुड कलाकार हैं जो इनकी मदद करके इनके परिवार वालों को दिलासा दे रहे हैं. पुलवामा अटैक में शहीदों की बेटियों को गोद लेगीं बिहार की ये DM, उनके इस काम से लोग उनकी खूब तारीफ कर रहे हैं.

पुलवामा अटैक में शहीदों की बेटियों को गोद लेगीं बिहार की ये DM

सीआरपीएफ के काफीले पर हमले के बाद शहीद हुए जवानों के परिवार की मदद के लिए लोग सामने आ रहे हैं. देश हर तरह से परिवार के साथ खड़े होकर उनको हर तरह की मदद करने के लिए खड़ा है. इसी बीच बिहार की शेखपुरा की डिस्ट्रिक मजिस्ट्रेट इनायत खान ने कुछ ऐसा किया है जिससे उनकी इज्जत लोगों की नजर में और बढ़ गई. रिपोर्ट्स के मुताबिक, बिहार के शेखपुरा की डीएम इनायत खान ने बताया है कि वो पुलवामा अटैक में शहीद हुए दो सीआरपीएफ जवानों की बेटियां गोद ले रही हैं. वह जिंदगी भर शहीद रतन कुमार ठाकुर की बेटी और संजय कुमार सिन्हा की बेटी की पढ़ाई का उम्र भर सारा खर्चा उठाएंगी. शहीद के परिवार को उन्होने दो दिन की सैलरी भी डोनेट कर दिया है. इसके अलावा उन्होंने अपने ऑफिस के स्टाफ से भी ऐसा करनने को कहा, अब ऐसा करने से इनायत खान की हर तरफ तारीफ हो रही है. लोगों ने इसे ट्वीट के जरिए बयां किया-

इसपर डीएम इनायत खान ने कहा, ”मै गवर्मेंट स्टाफ से रिक्वेस्ट करती हूं कि वो एक दिन की सैलरी दोनो शहीदों के परिवार को दें.” रिपोर्ट के अनुसार, इनायत ने शेखपुरा में एक बैंक अकाउंट भी खोला है और इसमें लोग सीआरपीएफ शहीदों को पैसे डोनेट कर सकते हैं.

क्या हुआ था उस दिन पुलवामा में ?

14 फरवरी को सीआरपीएफ के करीब 2500 जवानों का काफिला श्रीनगर हेडऑफिस जा रहा था. इस काफिले में करीब 78 गाड़ियां थी, 2500 जवान शामिल थे. उसी दौरान बाईं ओर से ओवरटेक कर विस्फोटक से भरी एक स्कॉर्पियो आई और उसने सीआरपीएफ की बस में टक्कर मार दी. आतंकवादी ने जिस कार से टक्कर मारी तो उसमें करीब 60 किलो विस्फोटक थे. जिसकी वजह से विस्फोटक इतना घातक हुआ जिसमें 40 जवान शहीद हो गए.