कुंभ में महिलाओं द्वारा खूब पसंद की जा रही हैं वॉटरप्रूफ साड़ी, जो डूबकी लगाने से भी नहीं हो रही हैं गीली

15 जनवरी से शुरू हुए कुंभ के मेले में दूर दूर से लोग आस्था की डूबकी लगाने आ रहे हैं.  इस कुंभ का हिस्सा अभी तक करोड़ों लोग बन चुके हैं और ये कुंभ का मेला 4 फरवरी तक चलने वाला है. प्रयागराज में हो रहे इस मेले में इस बार काफी कुछ नया देखने को मिल रहा है. साल 2019 के कुंभ में इस बार एक नए अखाड़े को शामिल भी किया गया है जो कि पहला किन्नर अखाड़ा है. इसके अलावा कुंभ में इस बार कई सारे राजनेता भी आकर डूबकी लगाने में लगे हुए हैं. वहीं कुंभ में  स्नान करने वाले औरतों के लिए हिन्दुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड (एचयूएल) ने एक बेहद ही खास साड़ी भी बनाई है और इस साड़ी की चर्चा हर जगह पर हो रही है.

आखिर क्या है इस साड़ी में खास और ये क्यों बनाई गई

इस साड़ी को कुंभ मेले में आने वाली महिलाओं के लिए बनाया गया है और इस साड़ी को बनाने वाली कंपनी यानी हिन्दुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड का कहना है कि इस साड़ी को पहनकर महिलाएं बिना गीले हुए पानी में डूबकी लगा सकती है. इस वॉटरप्रूफ साड़ी को बनाने का मकसद इस मेले में आने वाली महिलाओं की गरीमा को बनाए रखा है. क्योंकि जो महिलाएं साड़ी पहनती हैं उनके लिए साड़ी के साथ पानी में डूबकी लगाना काफी परेशानी भरा होता है.  इतना ही नहीं इस दौरान मौजूद कई आदमी महिलाओं को काफी घूरते भी हैं. महिलाओं की इन्हीं तकलीफ को इस कंपनी ने समझा है और इस साड़ी को बनाया है.

क्या है इस साड़ी की खासियत

इस साड़ी की सबसे बड़ी खासियत यही है कि ये साड़ी नहाते समय बिल्कुल भी गीली नहीं होती है और महिलाएं को साड़ी गीली होने से जोड़ी कोई भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है. इतना ही नहीं ये साड़ी शरीर के साथ चिपकती भी नहीं है.

कुंभ में बेची जा रही है ये साड़ी

इस साड़ी को कुंभ में बेचा जा रहा है और  इन साड़ी का प्रयोग स्नान के समय खूब किया भी जा रहा है. इस साड़ी को बेचने से जुड़ा हुए एक स्लोगन भी इस कंपनी द्वारा बनाया गया है. जो कि ‘हमाम में ना हो कोई नारी पानी पानी’ है. वहीं इन साड़ी को महिलाएं काफी पसंद भी कर रही हैं और इस साड़ी के स्टॉल पर महिला की काफी भीड़ रहती हैं. इन साड़ी का इस्तेमाल करने वाली महिलाएं इनको काफी आरामदायक भी बता रही हैं.

इस वॉटरप्रूफ साड़ी के बारे में इस कंपनी की जनरल मैनेजर ने कहा है कि ये  साड़ी औरतों के रोजना जीवन में भी कई अच्छे बदलाव लाएगी. ये साड़ी बनाना हमारी छोटी सी कोशिश है और इसके जरिए हमारी कंपनी महिलाओं को सम्मान देने चाहती है. आपको बता दें कि ये पहली बार नहीं है जब हिन्दुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड कंपनी ने महिलाओं के लिए ऐसा कुछ किया है. इससे पहले इस कंपनी ने कुंभ में स्नान करने के बाद महिलाओं को कपड़े बदलने में कोई दिक्कत ना हो इसलिए कमरे भी बनाए थे. जिनका खूब इस्तेमाल महिलाएं इस कुंभ में कर रही हैं.