जब सीआरपीएफ शहीदों के पार्थिव शरीर को लड़खड़ाते कदमों से राजनाथ सिंह ने दी विदाई

न्यूज़ट्रेंड वेब डेस्क:  14 फरवरी की शाम को 3-4 बजे के बीच पुलवामा में सीआरपीएफ की गाड़ियों पर आतंकियों ने हमला कर दिया था जिसमें देश के 42 जवान शहीद हो गए। बता दें कि भारत सरकार ने पाकिस्तान की इस हरकत पर कड़ा रोष व्यक्त करते हुए निंदा की है। पीएम मोदी ने कहा है कि वो पाकिस्तान से इसका बदला जरूर लेेंगे।  बता दें कि गृह मंत्री राजनाथ सिंह, कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक, सेना के उत्तरी कमान के चीफ लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने श्रीनगर में शहीद हुए इन सीआरपीएफ जवानों को श्रद्धांजलि दी। राजनाथ सिंह ने शहीद हुए जवानों के पार्थिव देह को खुद से कंधा दिया। शहीद के पार्थिव शरीर को जब राजनाथ सिंह ने कंधा दिया तो उनके कदम थोड़े से लड़खड़ा गए उनका ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। राजनाथ सिंह को देखकर ऐसा लग रहा है कि जैसे कोई बाप अपने बेटे को कंधा दे रहे हैं।शहीद के शरीर को कंधा देते वक्त राजनाथ सिंह धीमे और लड़खड़ाते कदमों के साथ चलते दिखे।

बता दे कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुलवामा हमले को लेकर कहा कि, “वो हमले के गुनहगारों को सजा जरूर मिलेगी। हमने इसके लिए सुरक्षाबलों को पूरी स्वतंत्रता दे दी है। सैनिकों के शौर्य पर भरोसा है। जवानों के खून की बूंद-बूंद का बदला लेंगे।”

न भूलेंगे न ही माफ करेंगे

पुलवामा हमले के करीब 19 घंटे बाद CRPF ने ट्वीट कर कहा, ‘ हम इस हमले को भूलेंगे नहीं और ना ही माफ करेंगे। हम अपने शहीद साथियों को सैल्यूट करते हैं। शहीद जवानों के परिजनों के साथ खड़े हैं। इस जघन्य हमले का बदला जरूर लिया जाएगा।’ ट्वीट से पहले मोदी ने चेताया कि हिंदुस्तान इस हमले का मुंहतोड़ जवाब देगा।

हमले के बाद सरकार के ठोस कदम

पुलवामा में हुए हमले का बदला लेने के लिए भारत उठा सकता है ये कड़े कदम

बता दें कि पुलवामा में हुए हमले में 42 जवान शहीद हुए हैं। आतंकियों के इस कायराना हरकत के बाद पूरे देश में गुस्सा है और सरकार ने पाकिस्तान के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कुछ कड़े नियम उठा सकने की बात सामने आ रही है।

1.सबसे पहले भारत सरकार ने पाकिस्तान को दिया हुआ मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस ले लिया है।

2.वहीं दिल्ली में पाक उच्चायुक्त को भी सरकार ने तलब कर दिया है।

3. विदेश मंत्रालय पाकिस्तान को पूरी तरह से बेसहारा करने का प्लैन बना चुकी है और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान के आतंकपरस्त चेहरे को भी पर्दाफाश करेगी।

4. यूरोपीय देशो ने पाकिस्तान से सभी रिश्ते खत्म करने का फैसला कर लिया है और किसी भी तरह की आर्थिक मदद अब पाकिस्तान को नहीं की जाएगी।

5. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आतंकवाद के खिलाफ सेना को छूट दे दी है। उन्होंने कहा कि ‘सुरक्षा बलों को आगे की कार्रवाई के लिए, समय क्या हो, स्थान क्या हो और स्वरूप कैसा हो, ये तय करने के लिए पूरी इजाजत दे दी गई है।’

5. मोदी ने देश को भरोसा दिलाते हुए कहा कि हमले के पीछे जो ताकत हैं, जो भी गुनहगार है, उन्हें उनके किए की सजा मिलेगी।

6. मोदी ने कहा, ‘मैं पाक आतंकियों और उनके समर्थकों को कहना चाहता हूं कि वे बहुत बड़ी गलती कर चुके हैं। बहुत बड़ी कीमत उन्हें चुकानी पड़ेगी।