नमाज के लिए छुट्टीः योगी बोले – शिवपुजा के लिए छुट्टी दो, नहीं तो हनुमान चालीसा के लिए तो ले ही लेंगे?

गोरखपुर – कल एक प्रदेश के मुख्‍यमंत्री ने घो‍षणा की कि जुमे के दिन यानी शुक्रवार को दोपहर में डेढ़ घंटे की छुट्टी एक वर्ग विशेष के कर्मचारियों को मिलेगी। इस फैसले पर जबर्जस्त हमला करते हुए बीजेपी के युवा सम्मेलन में सांसद योगी आदित्यनाथ ने भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश स्‍तरीय सम्‍मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि देश में कुछ लोग सेक्युलर होने का ठप्पा लगाकर देश को बांटने की कोशिश कर रहे हैं। इसके साथ ही आदित्‍यनाथ ने सरकार से सोमवार को जलाभिषेक और मंगलवार को हनुमान चालीसा के लिए भी छुट्टी देने की मांग की।  Yogi adityanath statement on namaz.

 Yogi adityanath statement on namaz

सोमवार को छुट्टी दो, नहीं तो मंगलवार को तो ले ही लेंगे –

आदित्‍यनाथ ने सम्‍मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि मजहब के नाम पर जुमे के दिन कर्मचारियों को डेढ़ घंटे छुट्टी देने वाली सरकार सोमवार को शिवालयों में पूजा के लिए कर्मचारियों को छुट्टी देगी क्या। उन्होंने कहा कि सरकार हिंदुओं को भी ऐसी सुविधा दे, नहीं तो मंगलवार को हनुमान चालीसा के लिए तो वह छुट्टी ले ही लेंगे। आगे बोलते हुए योगी ने कहा कि भारत ने 1950 में जिस संविधान को स्वीकार किया उसमें कही भी सेक्युलर शब्‍द का इस्तेमाल नहीं था, लेकिन कांग्रेस ने यह शब्द पैदा किया। उन्होंने पूछा कि भारत मां को डायन कहने वालों को मंत्री कौन बनाता है। अयोध्‍या में रामभक्‍तों पर गोली कौन चलाता है। उत्तर प्रदेश में इन माफिया, सरगनाओं, अतीक अहमद और अंसारी बंधुओं को कौन बढ़ावा देता है।

गांधी परिवार पर करारा वार –

राहुल गांधी पर कटाक्ष करते हुए योगी ने कहा कि राहुल जी को मैंने कभी भी 5 मिनट से अधिक बोलते हुए नहीं देखा। न तो वो किसी डिबेट में भाग लेते हैं और न ही जवाब देते हैं। वास्तविकता यह है कि कांग्रेस सदन चलने नहीं देना चाहती क्योंकि चर्चा होगी तो 2जी, कोल घोटाला, कॉमनवेल्थ गेम घोटाला सामने आएगा साथ ही साथ स्विस बैंक में किसका पैसा जमा है यह भी सामने आ जाएगा। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पिछले लोकसभा चुनाव में अगर गड़बड़ी नहीं हुई होती तो बीजेपी कई और सीटें जीतती। लेकिन इस बार ऐसी गड़बड़ी नहीं होने देंगे और जो भी गड़बड़ी करेगा उसे पैरामिलिट्री फोर्स गोली से जवाब देगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.