महिला डॉक्टर ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा- मौत के बाद मुझे पति हाथ तक ना लगाए

गुजरात के अडाजन में रहने वाली एक महिला डॉक्टर ने अपने पति और ससुराल वालों से तंग आकर आत्महत्या कर ली है. बताया जा रहा है कि आत्महत्या करने वाली ये डॉक्टर 29 साल की थी और इन्होंने 6 साल पहले ही शादी की थी. अभी तक की जांच में मनाली चिंतन पटेल  की आत्महत्या करने के पीछे उसके पति और ससुराल वालों को ही आरोपी माना जा रहा है. क्योंकि मनाली चिंतन पटेल ने अपने सुसाइड नोट पर साफ तौर पर इन लोगों का जिक्र किया है और अपने इस नोट में मनाली ने साफ तौर से ये भी लिखा है कि उनके पति उनके शव को हाथ तक ना लगाएं.

पांच बजे लगाई फांसी 

पुलिस के अनुसार मनाली ने करीब पांच बजे अपने घर में खुद को फांसी लगाई है और इन्होंने दूसरी मंजिल पर जाकर फांसी लगाई है. फांसी लगाने से पहले मनाली द्वारा एक नोट भी लिखा गया था और इस नोट को इन्होंने फोन के जरिए अपने भाई को भी भेजा था. मगर फोन बंद होने की वजह से उनके भाई के पास ये नोट तब नहीं पहुंच सका था.

क्या लिखा नोट में

अपने सुसाइड नोट में मनाली ने अपना सारा दुख प्रकट करते हुए लिखा है कि उनकी मौत के बाद उनके पति को इनके शव के पास भी ना आने दिया जाए और इनके अंतिम संस्कार से जुड़ी कोई भी विधी इनके पति से ना करवाई जाए. मनाली के इस में लिखी ये बात साफ तौर पर इस बात की और इशारा करती हैं कि ये अपने पति से काफी परेशान थी.

साल 2013 में की थी शादी

केपी संघवी अस्पताल में कार्य करने वाली मनाली ने वर्ष साल 2013 में अपने पेशे से ही नाता रखने वाले डॉ. चिंतन पटेल से विवाह किया था. विवाह के कुछ समय बाद ही इन दोनों के बीच में काफी लड़ाई होने लगी थी और मनाली काफी परेशाना और दुखी रहने लगी थी. मनाली पटेल ने अपने परिवार वालों को भी इस बात की जानकारी दे रखी थी कि उनके पति और पति के परिवार वाले उन्हें दुखी रखते हैं. मनाली अपने ससुराल वालों और पति से इतनी परेशान थी कि वो डिप्रेशन में भी थी.

मानसिक रूप से प्रताड़ित करते थे

मनाली के परिवार वालों का कहना है कि उनकी बेटी को मानसिक रूप से प्रताड़ित  किया जाता था. इतना ही नहीं  मनाली अपने पति के साथ एक कमरे में भी नहीं रहती थी. मनाली के रिश्तेदार के मुताबिक मनाली को पति के साथ साथ उनके सास-ससुर और ननद-ननदोई द्वारा भी परेशान किया जाता था और इनका ननदोई इनका काफी मजाक बनाया करता था.

लंबे समय से था तलाक का दबाव

मनाली के परिवार के मुताबिक मनाली का पति उससे अलग होना चाहता था और उसे तलाक देने जा रहा था.  हालांकि इन दोनों पति और पत्नी के बीच किस बात को लेकर ये तलाक की बात हुई थी ये परिवार वालों ने नहीं बताई है.

पुलिस ने दर्ज किया मामला

पुलिस ने मनाली की आत्महत्या का केस दर्ज कर दिया है और मनाली का फोन भी जब्त कर लिया है. पुलिस इस मामले की जांच हर तरह से कर रही हैं और पुलिस ने मानली के शव का पोस्टमार्टम भी किया है.