आजम खान करना चाहता था जया प्रदा पर एसिड अटैक, खुदख़ुशी करना चाहती थी जय प्रदा

कभी पर्दे पर अपनी एक्टिंग का लोहा मनवाने वाली  वाली जया प्रदा आज पर्दे पर नहीं आती, लेकिन बहुत पहले ही वह राजनीति में आ गई थीं। पर्दे पर तो अब वह नजर नहीं आती, लेकिन राजनीति के क्षेत्र में वह काफी सक्रिय रहती हैं। हाल ही में मुंबई के क्वींसलाइन लिटरेचल फेस्टिवल में जया प्रदा ने कुछ चौंकाने वाले खुलासे किए। जया की पर्दे की कहानी से तो हर कोई वाकिफ है, लेकिन उनकी निजी जिंदगी काफी उलझी हुई और विवादित रही। उन्होंने आजम खान पर कई खुलासे किए तो अमर सिंह पर भी अपनी बात रखी। यहां तक की उनकी जिंदगी में एक ऐसा भी पल आया था जब उन्होंने आत्महत्या करने की सोची थी। यह उनकी जिंदगी का सबसे दर्द भरा समय था।

आजम खान ने लगाया आजम पर आरोप

जया प्रदा ने सपा पार्ची के नेता आजम खान के ऊपर आरोप लगाया कि उन्होंने एसिड अटैक कराने की कोशिश की थी। ऐसा पली बार नही है जब जया ने आजम खान पर कोई आरोप लगाया हो, इससे पहले 2009 में जया ने आजम के ऊपर न्यूड तस्वीरें वायरल करने का भी आरोप लगाया था। उस वक्त इन बातों पर जमकर विवाद हुआ था। हालांकि कुछ समय बाद ये मामला शांत हो गया थाइन सबके विवादों के बात भी जया प्रदा की जिंदगी में कभी विवाद थमा नहीं। अमर सिंह के साथ उनके रिश्तों को लेकर अक्सर खबरें आती हैं। कई बार लोग उनके रिश्तो पर विवादित बयान दे देते हैं। जया ने अब सभी को इस बारे में खुलकार जवाब दिया है। जया ने कहा कि अमर सिंह उनके गॉडफादर हैं। जया ने कहा कि लोग उनके और अमर सिंह के बारे में अजीबो गरीब बातें करते रहते हैं। उन्होंने कहा कि अगर वह अमर सिंह को राखी भी बांध देती हैं तो भी लोग बातें करना बंद नहीं करेंगे। जया ने बताया कि अमर सिंह ने उनकी मदद तब की थी जब कोई उनके साथ नहीं था।

जब सुसाइड के बारे में सोचने लगी थीं जया

जया ने उस घटना का जिक्र करते हुए कहा की मेरी कुछ निजी तस्वीरें वायरल हो गई थी, मैं दुखी रहती थी और हमेशा परेशान रहती थी। उस वक्त अमर सिंह डायलिसिस पर थे। जया ने कहा कि उस वक्त मैं खुदकुशी करना चाहती थी। मैं सदमें में थी मेरा जीने का मन नहीं करता था। उस मुश्किल की घड़ी में कोई मेरी मदद के लिए आगे नहीं आया। केवल अमर सिंह जी जो डॉयलसिस  बाहर आए थे और उन्होंने मुझे सपोर्ट किया।जया ने कहा कि अमर सिंह ने मेरा मुश्किल के वक्त साथ दिया अब आप उनके बारे में क्या सोचेंगे, गॉडफादर या फिर कुछ और। यहां तक की अगर मैं उन्हें राखी भी बांध देती तो भी क्या लोग चुप होते? मुझे इस बात की परवाह नही है कि लोग मेरे बारे में क्या सोचेंगे।  जया ने कहा कि एक सांसद होने के बाद भी मुझे बख्शा नहीं गया। आजम खान ने मुझे हैरेस किया। उन्होंने मेरे ऊपर एसिड अटैक कराने की कोशिश की। जया ने कहा कि उस वक्त ये भी यकीन नहीं था कि अगले दिन जिंदा रहूंगी या नहीं।

शादीशूदा जिंदगी भी रही विवादित

सिर्फ राजनीति की वजह से ही नहीं उनकी अपनी निजी जिंदगी भी काफी विवादित रही। जया ने 1986 में प्रोड्यूर श्रीकांत नाहचा से शादी की थी। वह उनकी दूसरी पत्नी थीं। श्रीकांत की पहली पत्नी चंद्रा से तीन बच्चे थे। जया ने शादी की, लेकिन कभी मां नहीं बन पाईं। उनकी शादी में बड़ा विवाद भी खड़ा हुआ था क्योंकि चंद्रा को बिना तलाक ही दिए श्रीकांत ने जया से शादी की थी।बाद में चंद्रा और जया एक दूसरे से सहमत हो गई थी और साथ ही रहने लगी थी। हालांकि उस वक्त भी इनका रिश्ता काफी उलझा नजर आया जब जया से शादी करने के बाद भी श्रीकांत को उनकी पहली पत्नी से एक बच्चा हुआ। जया को मां बनने का सुख कभी नहीं मिला। हालांकि सफल करियर बनाने के बाद जया ने राजनीति की ओर कदम बढ़ा लिए थे। ऐसा माना जाता है कि जया को राजनीति में लाने के पीछे अमर सिंह का ही हाथ था। जया रामपूर से सांसद भी रहीं। बाद में अमर सिंह के सपा से अलग होने के बाद भी जया भी राष्ट्रीय लोकदल पार्टी में शामिल हो गई थी।

यह भी पढ़ें