कालाधन रखने वालों को मोदी सरकार ने दिया आखिरी मौका! इस तारीख तक अघोषित करें अपनी आय

नई दिल्ली सरकार ने कालाधन रखने वालों को एक आखिरी मौका दिया है। इसके तहत वे नोटबंदी के बाद कर, जुमार्ना और उपकर चुका कर पाक-साफ बन सकते हैं। इसके लिए सरकार कि ओर से शुक्रवार को आय घोषणा पीएमजीकेवाई योजना का ऐलान किया गया जिसके तहत 31 मार्च तक अघोषित आय का खुलासा किया जा सकता है। राजस्व सचिव हसमुख अधिया ने कहा कि यह योजना (पीएमजीकेवाई) शनिवार से शुरू होगी जिसके तहत कर चोरी करने वालों को गोपनीयता व अभियोजन से छूट की पेशकश की गई है। PMGKY black money Deceleration.

पीएमजीकेवाई के तहत दें जानकारी –

Forbes top 10 most powerful Man

 

पीएमजीकेवाई योजना के तहत इस तरह के धन पर पहले कर चुकाने होंगे और कर भुगतान प्राप्ति के आधार पर ही योजना का लाभ लिया जा सकेगा। इस योजना के तहत किए गये खुलासे को सार्वजनिक नहीं किया जाएगा और अघोषित राशि को वर्ष की आयकर रिटर्न में नहीं दिखाना होगा। अघोषित धनराशि का खुलासा 17 दिसंबर से लेकर अगले साल 31 मार्च तक की जा सकेगी। अगर कोई व्यक्ति पीएमजीकेवाई के तहत अपनी अघोषित आय का खुलासा नहीं करता है और आयकर की जांच के दौरान उस पर कालाधन पकड़ा जाता है तो सरकार उससे 77.25 प्रतिशत टैक्स और जुर्माना वसूलेगी साथ ही उसके खिलाफ अभियोग भी चलेगा। अढिया ने कहा नोटबंदी के बाद जिन लोगों ने भी 500 रुपये और 1000 रुपये के पुराने नोट के रूप में अघोषित राशि जमा की है, वे अगर पीएमजीकेवाई के तहत खुलासा करते हैं तो उन पर मुकदमा नहीं चलेगा।

ई-मेल कर सरकार को दे सकते हैं जानकारी –

PMGKY black money Deceleration

राजस्व सचिव हसमुख अधिया ने यह घोषणा करते हुए कहा कि नया ई-मेल ‘[email protected]’ शुरू किया गया है। इस पर कोई भी व्यक्ति कालेधन वालों की जानकारी दे सकता है। मेल करने वालों के बारे में पूरी गोपनीयता बरती जाएगी। ई-मेल करने वालों को पुरस्कृत भी किया जाएगा। अधिया ने कहा कि प्रीवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट, नारकोटिक्स एक्ट, बेनामी संपत्ति रखने वालों या तस्करी के आरोपियों के प्रति कोई नरमी नहीं बरती जाएगी। अधिया ने कहा था प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना या कराधान व्यवस्था में निवेश लोगों के लिए अंतिम मौका है। कोई भी व्यक्ति या कंपनी 49.9 फीसदी कर चुकाकर अपनी अघोषित आय को सफेद बना सकती है। इसके अलावा सीबीडीटी के चेयरमैन सुशील चंद्रा ने कहा कि कर विभाग की सभी संदिग्ध गतिविधियों पर निगाह है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.