देखें कांग्रेसियों की धरना प्रदर्शन में ATM की लाइन में लगे लोगों ने उन के साथ क्या किया… !

नोटबंदी को लेकर विपक्षी दल प्रधानमंत्री मोदी के ऊपर निशाना साधने का कोई भी मौका नहीं छोड़ रहे हैं। आये दिन जगह-जगह पर धारणा प्रदर्शन कर रहे हैं। ज्ञात हो कि पिछले महीने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पुराने 500 और 1000 के नोट बंद कर दिए थे। जिसके बाद विपक्ष को एक मौका मिल गया, सरकार के ऊपर निशाना साधने का। कांग्रेस और अन्य विपक्षी दल एक ही बात कह रहे हैं कि इससे ना ही काला धन बंद होगा और ना ही जाली नोटों का कारोबार रुकेगा।

सदन की कार्यवाई भी नहीं चलने दी कांग्रेस और विपक्षी दलों ने:

आपको बता दें कांग्रेस ने इस बार विधानसभा और राज्यसभा की बैठकों के दौरान भी अन्य विपक्षी दलों के साथ मिलकर जमकर बवाल किया। एक दिन भी सदन की कार्यवाई को ठीक से नहीं चलने दिया गया। हर रोज एक ही नारा नोटबंदी को वापस लिया जाए। इसी को लेकर हर दिन कांग्रेस धरने दे रही है। आज हम आपको एक ऐसा वीडियो दिखाने जा रहे हैं, जिसमे कांग्रेस के धरने के दौरान कार्यकर्ताओं को मुँह की खानी पड़ी और उनकी जमकर बेइज्जती की गयी।

जनता ने कांग्रेस का किया जमकर विरोध:

दरअसल कांग्रेस के कार्यकर्ता नोटबंदी को लेकर विरोध कर रहे थे और धरना निकाल रहे थे। सैकड़ों की संख्या में कांग्रेस के कार्यकर्ता रोड पर झंडे लेकर “नोटबंदी वापस लो” के नारे लगाते हुए एक एटीएम के पास पहुँचे और वहाँ “मोदी मुर्दाबाद” “मोदी हाय-हाय” और “नोटबंदी वापस लो” जैसे नारे लगा रहे थे। उन्हें उस समय मुँह की खानी पड़ी जब एटीएम की लाइन में लगे हुए लोगों ने उनकी जमकर बेइज्जती करते हुए “मोदी-मोदी” चिल्लाना शुरू किया। कांग्रेस का दाँव यहाँ उल्टा दिखता नजर आ रहा था।

अपना राजनीतिक हित साधना चाहती है कांग्रेस:

आप वीडियो में देख सकते हैं कि की तरह से कांग्रेस के जवाब में एटीएम की लाइन में घंटो से खड़े लोगों ने मोदी का समर्थन किया और उनके पक्ष में नारे लगाए। यह देखकर कांग्रेसियों की हालत ख़राब हो गयी। उन्होंने तो यही बोलकर धरना प्रदर्शन शुरू किया था कि इससे जनता को परेशानी है, जबकि जनता नरेन्द्र मोदी की तरफ दिख रही है। इससे एक बात तो साफ़ है कि नोटबंदी से जनता को कोई नुकसान नहीं है, बल्कि कांग्रेस इसके जरिये अपना राजनीतिक हित साधना चाहती है।

वीडियो देखें:

https://www.youtube.com/watch?v=S8M07c7v3JU

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.