देखें विडियो : मनोहर पर्रिकर जी ने किया ममता बेनर्जी और TMC के बारे में बहुत बड़ा खुलासा

रक्षामंत्री मनोहर पर्रीकर इस समय पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से  रवैये से बेहद गुस्से में हैं । पर्रीकर इतने गुस्से में थे कि उन्होंने ममता को चिट्ठी लिखकर उनपर निशाना साधा और कहा कि वह मुख्यमंत्री के इस आरोप से बहुत दुखी हुए हैं। दरअसल बंगाल में टोल बूथ पर केंद्र सरकार ने सेना की तैनाती की थी, जिसके लिए ममता बनर्जी ने बवाल मचाया था की  केंद्र सरकार ऐसा कैसे कर सकती है। मेरे राज्य में सेना की तैनाती से पहले मुझसे पूछना चाहिए था। ममता ने केंद्र सरकार के इस कदम को शक की निगाह से देखा था। केंद्र सरकार ने कहा है कि बंगाल और अन्य राज्यों में सेना की तैनाती केवल रक रोजमर्रा की गतिविधि थी, जिसे ममता ने बड़ा बवाल बना दिया।

राजनीति में खीचा जा रहा है सेना को:

पर्रीकर ने चिट्ठी में लिखा है कि मुझे बहुत दुःख हुआ है कि इस तरह से सेना को राजनीति में खीचा जा रहा है। ममता का यह कदम बिलकुल भी सही नहीं था। पार्रिकर ने आगे लिखा है कि, अगर आपने अपने राज्य सरकार की सम्बंधित एजेंसी से जानकारी ली होती तो आपको इस बात का पता चलता कि सेना के और स्टेट एजेंसी के बीच कितनी बात की गयी थी, सारी बात पत्र लिखकर हुई है। उन्होंने आगे लिखा है कि आपके इस कदम से देश की सेना के मनोबल पर असर पड़ सकता है।

manohar parrikar, mamata banerjee

ममता ने दिया था इसके विरोध में धरना:

आपको बता दें ममता बनर्जी ने सचिवालय और टोल नाके पर सेना की तैनाती को लेकर केंद्र सरकार के ऊपर काफी आरोप लगाए थे और यह भी कहा था कि मोदी सरकार पक्षिम बंगाल में उनकी सरकार का तख्ता पलट करना चाहती है। ज्ञात हो, ममता बनर्जी ने इसके विरोध में धारना भी किया था और कहा था कि जब तक केंद्र सरकार सेना को हटाएगी नहीं वह अपने दफ्तर से बाहर नहीं निकलेंगी। उन्होंने केंद्र सरकार के ऊपर यह गंभीर आरोप भी लगाया कि केंद्र सरकार उन्हें कुचलना चाहती है। इसको लेकर उन्होंने कई ट्वीट भी किये हैं।

सेना ने ममता के आरोपों से किया इनकार:

इधर सेना ने ममता के सारे आरोपों को एक सिरे से ख़ारिज कर दिया है। सेना ने अपने दस्तावेजों को दिखाते हुए कहा कि यह महज एक रूटीन एक्सरसाइज थी। आपातकालीन स्थिति को मद्देनजर रखकर समय-समय पर भारी वाहनों और अन्य सैन्य साजो-सामान के साथ सेना की क्षमता का परिक्षण किया जाता है। सेना ने अपने दस्तावेज दिखाते हुए कहा कि सेना के इस कदम की पहले ही बंगाल पुलिस को जानकारी दे दी गयी थी।

 

वीडियो देखें:

https://youtu.be/veJheQRRfFM

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

error: Content is protected !!