दिमाग को तेज़ करने व स्मरण शक्ति बढ़ाने के आसान रामबाण उपाय, यहाँ पढ़ें

हर इंसान चाहता है कि उसकी यादाश्त यानी की स्मरण शक्ति अच्छी हो ताकि उसे अपने जान पहचान वालों तथा परिचित लोगों के नाम, चेहरे, फोन नंबर आदि या फिर जो अभी पढ़ाई कर रहा हूं उन विद्यार्थियों को अपनी पढ़ाई से संबंधित जरूरी बातें याद रहे। आमतौर पर कहा जाता है कि जिस इंसान की स्मरण शक्ति तेज होती है उसे उसके जीवन में सफलता पाने के लिए ज्यादा संघर्ष नहीं करना पड़ता है फिर चाहे वो पढ़ाई का क्षेत्र हो या व्यापार या नौकरी कुछ भी। ऐसा भी देखा जाता है कि अगर कोई व्यक्ति मेहनती है और साथ ही साथ मिलनसार भी है तो उसकी स्मरण शक्ति यानी कि उसकी याददाश्त काफी अच्छी होती है और उसे सफलता मिलने की संभावनाएं भी काफी बढ़ जाती है।

आज के समय में हर कोई औरो से आगे निकलने के प्रयास में लगा रहता है और आगे निकालना है तो आपका दिमाग भी तेज़ होना चाहिए, मगर पर्यावरण और अन्य कारकों के प्रभाव की वजह से हमारी स्मरण शक्ति काफी ज्यादा क्षीण होती जा रही है। दुनिया के महान वैज्ञानिक जैसे की आइंस्टाइन या फिर चाणक्य जैसे लोग कोई विशेष दिमाग लेकर नहीं आये थे मगर हाँ उनमें और किसी भी अन्य साधारण व्यक्ति में बस इतना अंतर था कि वे अपने दिमाग को अन्य मनुष्यों से ज्यादा इस्तेमाल करना जानते थे। तो चलिये जानते हैं किस तरह से हम या आप अपनी स्मरण शक्ति को बढ़ा सकते हैं वो भी कुछ आसान से उपाय की मदद से।

स्मरण शक्ति बढ़ाने के रामबाण उपाय

संतुलित आहार

आपको बता दें की अगर आप चाहते है की आपकी स्मरण शक्ति अच्छी रहे और आपका दिमाग तेज़ काम करे तो इसके लिए यह बहुत ही आवश्यक है की आप उचित आहार और पोषक तत्वों से भरपूर भोजन करें। जैसे सोया के आटे में फायटोस्ट्रोजेन नामक प्लांट हार्मोन और विटामिन B अच्छी मात्रा में होता है जो दिमाग के लिए बहुत उपयोगी है। बता दें की सोया से बना आटा डिमेंशिया जैसे रोगों से बचाव में मदद करता है और साथ ही साथ स्मरण शक्ति भी बढ़ाता है।

अक्सर ही आपने सुना होगा की तेज़ दिमाग चाहिए तो बादाम खाइये और आपको बता दें की अगर आप 10 बादाम रात को पानी में भिगो देते हैं और अगली सुबह उसके छिलके उतारकर अच्छे से पीस कर उसे एक गिलास गर्म दूध में मिला कर नियमित रूप से पीते हैं तो इससे आपकी स्मरण शक्ति बेहतर रहती है। इसके अलावा यह भी बता दें की दिमाग तेज़ करने के लिए आपको प्रतिदिन एक सेब का सेवन करना भी स्मरण शक्ति के लिए बहुत फायदेमंद है।

यदि आप विद्यार्थी हैं और देर रात तक पढ़ाई करते है तो ऐसे में आपको चाहिए की आप आधे-आधे घंटे के अंतराल पर आधा गिलास ठंडा पानी पीते रहें। ऐसा करने से एक तो आपको जगने में आसानी होगी और आपका दिमाग भी सुचारु रूप से कार्य करेगा। हालांकि आपको बता दें की रात में 11 बजे तक सो जाना ज्यादा उचित माना जाता है।

इस बात का भी विशेष ध्यान रखना चाहिए की कभी लेटकर या झुककर नहीं पढ़ना चाहिए। ऐसा करने से रीढ़ की हड्डी पर असर पड़ता है और आपके शरीर में आलस आता है साथ ही साथ आपके सोचने की क्षमता भी कम होने लगती है।

मेंटल एक्सरसाइज

आपको बताते चलें की दिमाग तेज करने के लिए मेंटल एक्सरसाइज करना भी काफी जरूरी माना जाता है। आमतौर पर हमारा दिमाग तो हर समय एक्टिव रहता है लेकिन दिमाग को जटिलताओं में भी सहज रहने की आदत विकसित करने लिए मेंटल एनालेसिस, ब्रेन प्रेक्टिस, पजल गेम आदि सॉल्व करना काफी आवश्यक होता है। इसके लिए आप सुडोकु और शतरंज जैसे दिमागी खेल खेल सकते हैं।