जानिए ठंढ में मूंगफली खाने से कौन- कौन से फायदे होते हैं…अगर आप नहीं खाते तो आज से शुरू कर दीजिये!

222

मूंगफली हर समय के लिए एक अच्छा टाइम पास होता है। आप कहीं भी जाइये अगर आपके पास मूंगफली है तो कैसे समय बीत जाता है, पता ही नहीं चलता है। अक्सर जब लोग अपने दोस्त या परिवार के साथ कहीं जाते हैं, तो अपने साथ मूंगफली ले लेते हैं, ताकि घूमते हुए उसे आसानी से खा सकें। कई लोग इसे गरीबों का काजू भी कहते हैं। यह खाने में स्वादिष्ट तो होता ही है, साथ ही कई प्रकार से इसका उपयोग भी किया जा सकता है। इसका तेल निकालकर भी उपयोग में लाया जाता है, जिसमे खाना पकाया जाता है।

मूंगफली भारत में हर तरह के पकवान में इस्तेमाल की जाती है। इसका मीठा पकवान भी बनाया जाता है और नमकीन भी बनायी जाती है। यह आसानी से हर जगह मिल भी जाती है। इसकी खेती मुख्य रूप से बलुई मिट्टी में की जाती है। इसलिए इसकी खेती ज्यादातर नदी के किनारे वाले हिस्सों में की जाती है। वैसे तो मूंगफली को हर मौसम में खाया जाता है, लेकिन ठंढ में इसको खाने से कुछ ज्यादा ही फायदा होता है। आइये जानते हैं ठंढ में इसको खाने से कौन-कौन से फायदे होते हैं।

ठंढ में मूंगफली खाने से होते हैं ये फायदे (health benefits in winter peanuts):

health benefits in winter peanuts

*- मूंगफली में मिनरल्स, न्यूट्रिएंट्स, एंटीऑक्सीडेंट्स और विटामिन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसको खाने से शरीर में हमेशा मजबूती बनी रहती है और आप फुर्ती महसूस करते हैं।

*- इसमें विटामिन B कॉम्प्लेक्स, विटामिन B6, विटामिन B9 पेंटोथेनिक एसिड, नियाचिन, थियामिन, और रिबोफ्लेविन भी पाया जाता है, जो इसके स्वाद को कई गुना बढ़ा देता है।

*- मूंगफली में मोनो इनसैचुरेटेड फैटी एसिड पाया जाता हैं जो कि एलडीएल या खराब कोलेस्ट्रॉील को कम कर देता है और शरीर में अच्छेो कोलेस्ट्रॉ ल को बढ़ाने का काम करता हैं।

*- मूंगफली में शर्करा, प्रोटीन और फैट भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जो शरीर के लिए बहुत ही लाभदायक होता है। इसका फैट साधारण फैट से अच्छा होता है और यह शरीर को नुकसान भी नहीं पहुँचाता है।

*- मूंगफली में उतनी ऊष्मा पायी जाती है, जितनी कि दूध और अंडे को मिलाकर मिलती है। यानी एक अंडे के बराबर अगर आप मूंगफली खाते हैं तो आपको सर्दी में किसी चीज की परवाह करने की जरुरत नहीं है।

*- अगर आप केवल मूंगफली खाते हैं तो आपके शरीर की दूध और बादाम की कमी को पूरा किया जा सकता है।

*- अगर खाने के बाद प्रतिदिन 50-100 ग्राम मूंगफली खाई जाए तो इससे सेहत बनती है और व्यक्ति मोटा होता है। इससे खाना भी पचता है और खून की कमी भी पूरी हो जाती है।

*- एक शोध के मुताबिक जिस व्यक्ति के खून में ट्राइग्लाइसेराइड का अनुपात बढ़ जाता है, अगर वह प्रतिदिन मूंगफली का सेवन करे तो उनके खून के लिपिड अनुपात में ट्राइग्लाइसेराइड के अनुपात को 10.2 प्रतिशत तक कम किया जा सकता है।