मुख्य समाचार

नोटंबदीः कितने गिर गए अरविंद केजरीवाल! जनता को भड़काने के लिए शेयर कि मौत की झूठी ख़बर

नई दिल्ली – ये तो आप सभी जानते हैं कि दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं। खुद तो ट्वीट  करते ही हैं इसके अलावा पार्टी वर्कर्स, पत्रकारों, मुख्‍यमंत्रियों के ट्वीट को रिट्वीट भी करते रहते हैं। कभी – कभी खबरों के लिंक के साथ अपनी राय लिखकर शेयर करना उनकी पुरानी आदत है। दरअसल, केजरीवाल 8 नवंबर को फैसले की घोषणा के बाद से ही इसका विरोध करते रहे हैं। केजरीवाल नोटबंदी के फैसले का हर तरह से विरोध कर रहे हैं औऱ इसका कोई भी मौका वो छोडना नहीं चाहते। Kejriwal sharing fake news on twitter.

नोटंबदी पर मौत की झूठी खबर शेयर कर फंस गए केजरीवाल

इसी क्रम में रविवार को केजरीवाल ने एक शख्‍स के ट्वीट को शेयर किया। इस ट्वीट में बताया गया था कि ‘एक व्‍यक्ति ने बैंक में फांसी लगा ली क्‍योंकि वह तीन-चार दिन से पैसा न मिलने से परेशान था।’ केजरीवाल ने इसे शेयर करते हुए लिखा, “मोदी जी, ये देखिए। अब तो इस देश के लोगों पे रहम कीजिए। आख़िर क्या दुश्मनी है आपकी जनता से। ग़रीब की इतनी हाय मत लीजिए।” हालांकि उन्‍हें अंदाजा नहीं था कि खबर फर्जी है और मामला उल्‍टा पड़ जाएगा। इस पोस्‍ट पर यूजर्स ने भी केजरीवाल के झूठी खबर शेयर करने पर आपत्ति जताई।

पहले भी नोटबंदी को धर्म से जोड़कर फंसे थे केजरीवाल –

इससे पहले भी दिल्‍ली सीएम ने ट्वीट कर नोटबंदी के मुद्दे को धर्म से जोड़कर भाजपा पर निशाना साधने की कोशिश की थी। उन्‍होंने ट्वीट किया, “भाजपा कहती है हम हिंदुओं की पार्टी हैं। नोटबंदी में तो भाजपा ने हिंदुओं को भी नहीं छोड़ा। हिंदुओं को भी बर्बाद कर दिया।” कल वाले ट्वीट को लेकर जब विवाद बढ़ा तो ट्वीट करने वाले शख्‍स ने अपना ट्वीट ही डिलीट कर दिया। लेकिन हैरानी वाली बात है कि इतने विवाद और ख़बर का झूठ पकड़े जाने पर भी केजरीवाल ने अभी तक इस ट्वीट को डिलीट नहीं किया है। नीचे वीडियो में देखें की किस तरह केजरीवाल सच सामने आने के बाद भी नोटबंदी के इतने खिलाफ हो गए हैं कि झूठ को भी सच साबित करने पे तुले हुए हैं। 

देखें वीडियो –झूठे ट्वीट पर इस शख्स ने किस तरह केजरीवाल को लताड़ा –

Related Articles

Close