आपको जानकर विश्वास नहीं होगा कि महिलाएँ इस तरह से करती हैं प्यार!

जब एक पुरुष एक महिला को धोखा देता हैं, तब महिलाएँ पूरी तरह से टूटती नहीं हैं बल्कि वह और मजबूत होती हैं, क्योंकि महिलाएँ निस्वार्थ प्रेम करना जानती हैं और वह बहुत ही मजबूत होती हैं। लड़कों के लिए क्या है, जब वह किसी के प्यार में एक बार पड़ जाते हैं तो वह अपने दिमाग की बजाय अपने दिल से सोचने लगते हैं। महिलाएँ जब किसी पुरुष से प्रेम करती हैं तो सारी जिंदगी उसे ऐसे चाहती हैं, जैसे उसके अलावा दुनियाँ में कोई और है ही नहीं।

जब बलिदान की बारी आती है तब भी वह पीछे नहीं हटती हैं। लेकिन क्या होता है जब एक पुरुष, महिला को धोखा देता हैं, जो उसके प्रेम में पड़ी हुई है।

Women love that way

कुछ उम्मीद खो देने की वजह से फाँसी लगा लेती हैं:

कुछ के बीच बहुत ज्यादा लड़ाई होती है, लेकिन कुछ अपनी उम्मीद खो देने की वजह से फाँसी पर भी लटक जाती हैं। लेकिन आपको भरोसा नहीं होगा एक महिला एक पुरुष के धोखा देने के बावजूद भी उसे प्यार करती है। हाँ ये बिलकुल सच है, उस महिला ने अपनी कहानी बताई है जो दिल को झकझोर देने वाली है। जानिए क्या हुआ जब एक पुरुष ने महिला से धोखा किया?

महिला की कहानी उसकी जबानी:

मैं और मेरा प्रेमी एक दुसरे से तब तक मिलते रहे जब तक की शादी नहीं हो गयी। हम एक अच्छे प्रेमी थे और एक दुसरे की भावनाओं को बहुत अच्छे से समझते थे। शादी हो जाने के बाद हमने भी छोटी- छोटी बातों पर बहस करना शुरू कर दिया। शादी के 5 साल बाद चीजें धीरे- धीरे बदलने लगीं।

हमारे पास एक बच्चा भी था और हम खुशहाल परिवार थे, लेकिन कुछ दिनों के बाद उसके व्यवहार में परिवर्तन आया। उसने देर से आना और जल्दी जाना शुरू कर दिया और मुझसे किसी भी बारे में बात भी करना बंद कर दिया।

फ़ोन पर सुनी एक महिला की आवाज:

एक दिन वह अपना फ़ोन घर पर ही भूल गया, फ़ोन लगातार बज रहा था। मैंने फ़ोन उठाया तो एक महिला की आवाज थी, उसने आज के प्लान के बारे में बहुत ही रोमांटिक अंदाज में अलग नाम लेकर पूछा। मैंने उत्सुक्तावश जानने की कोशिश की और उसका मेसेज चेक किया।

अब पूरी कहानी मेरे सामने थी। वह मुझे अपने मुवक्किल के साथ धोखा दे रहा था और मैं यह समझ भी नहीं पायी। मैंने यह निर्णय लिया कि जब वह घर आएगा तब मैं इसके बारे में बात करुँगी कि वास्तव में यह क्या है। लेकिन जब वह घर आया तो उसके चेहरे के भाव को देखकर मैं कुछ कह नहीं पायी।

मैं उसे छोड़ने से डरती थी:

यह लगातार चलता रहा। मैं हर रात यह सोचकर रोती रही कि अब मैं उससे इस बारे में बात करुँगी। हालांकि जब मैं उसे देखा करती थी, मैंने सबकुछ देखा और महसूस किया कि मेरे पास क्या है। वर्तमान में मुझे यह पता है कि मेरे घर का कोई व्यक्ति बहका हुआ है और मुझे उसे मनाना चाहिए लेकिन मैं यह नहीं कर सकी। शायद मैं उससे बहुत ज्यादा प्यार करती थी और उसे छोड़ने से डरती थी।

मुझे उसी पल यह अहसास हुआ कि मुझे उसे सब कुछ बताना होगा कि मैं उसके बारे में सब जानती हूँ और उसे मुझे छोड़ना होगा। मैं जब भी उससे दूर होने के बारे में सोचती थी ऐसा लगता था, जैसे मैं अन्दर से मर गयी हूँ। जबसे उसने मुझे धोखा दिया हैं, तब से मैं उससे गुस्सा हूँ, लेकिन अभी भी प्यार करती हूँ।

उसे इस बात का ज़रा भी पछतावा नहीं हुआ:

एक दिन मैंने साहस जुटा के उससे इस बारे में बात की और वह समझ नहीं पाया। सबसे ज्यादा परेशान करने वाली बात थी कि, इतना सब हो जाने के बाद उसने मुझे घर छोड़ने के लिए कहा। उसने मुझसे माफ़ी भी नहीं माँगी, उसने कोई सफाई भी नहीं दी और ना ही उसके चेहरे पर पछतावे का एक भी भाव था।

शायद इसका कारण है कि, मैंने उसे पहले इसके बारे में नहीं बताया। चूँकि मुझे उसे थोड़े पास से देखने की जरुरत है। वास्तविकता यह है कि मैं कुछ भी बर्दास्त कर सकती हूँ लेकिन अब उसे मेरी बिलकुल भी परवाह नहीं है। हालांकि हम अलग हो गए लेकिन मैं अब भी उससे बहुत प्यार करती हूँ। मैं उसका फ़ोन उठाने पर अफ़सोस करती हूँ। शायद मुझे उसके साथ की जरुरत है ना कि तलाक की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.