मुस्लिम व्यक्ति ने की किडनी देने की पेशकश, सुषमा ने कहा – ‘किडनी पर कोई धार्मिक ठप्पा नहीं होता’

नई दिल्ली – विदेश मंत्री सुषमा स्वराज आम लोगों के हितों में आए दिन अच्छे फैसले लेकर उनकी मदद कर रही हैं। चाहे गुमनाम महिला गीता को पाकिस्तान से लाना हो या फिर किसी गरीब की मदद में त्वरित वीजा दिलवाना हो। लेकिन इन दिनों किडनी फेल होने कि वजह से विदेश मंत्री सुषमा स्वराज दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती हैं और उन्हें किडनी ट्रांसप्लांट की ज़रूरत होगी। सुषमा ने बुधवार को ट्वीट करके लोगों को बताया था कि वो इलाज के लिए एम्स में भर्ती हैं।  Sushma Swaraj Kidney Transplant.

किडनी दान के लिए सैकड़ों लोग तैयार –

दरअसल, सुषमा ने बुधवार को ट्विटर पर अपने स्वास्थ्य की जानकारी दी थी और तब से सैकड़ों लोगों ने उन्हें अपना किडनी दान देने की पेशकश की मुजीब अंसारी नाम के व्यक्ति ने उन्हें किडनी दान करने की पेशकश करते हुए ट्विटर पर लिखा था कि वह मुस्लिम हैं और उत्तर प्रदेश में रहते हैं और बीएसपी के समर्थक हैं।

 इसके बाद सुषमा ने ट्वीट किया कि भाइयों आपका बहुत बहुत शुक्रिया। मुझे यकीन है, किडनी पर धर्म का कोई ठप्पा नहीं होता। अंसारी ने ट्वीट किया था ‘सुषमा स्वराज मैम, मैं बसपा का समर्थक हूं और एक मुस्लिम हूं लेकिन मैं आपके लिए अपनी किडनी दान करना चाहता हूं, मेरे लिए आप मां समान हैं, अल्लाह आपको बरकत दे।’ एक और मुस्लिम व्यक्ति नियामत अली शाइक ने भी जरूरत पड़ने पर सुषमा को किडनी देने की पेशकश की।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को किडनी देगा पाकिस्तानी नेता –

इसके अलावा, पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के एक समर्थक ने उन्हें किडनी देने की पेशकश की है। बलूच नेता अहमर मुस्‍ती खान ने कहा कि वह सुषमा स्‍वराज को अपनी एक किडनी देना चाहते हैं। बुधवार को जब सुषमा की तबियत खराब होने की खबरें आईं तो उन्‍होंने ट्वीट किया था। उन्‍होंने अपनी ट्वीट में लिखा था कि भगवान कृष्ण बलूच लोगों की बहन सुषमा स्‍वराज को जल्‍द ठीक करें।

अहमर मुस्‍ती बलूच नेता है। पिछले दिनों उन्होंने पाक पीएम नवाज शरीफ के यूएस इंस्‍टीट्यूट ऑफ पीस में हुए भाषण के दौरान कई सवाल पूछे थे। मुस्‍ती के सवालों ने नवाज को परेशान कर दिया था। मुस्‍ती के मुताबिक अगर अमेरिका, पाकिस्‍तान को समर्थन देना बंद कर दे तो फिर बलूचिस्‍तान को आजादी और यहां के लोगों की जीत तय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.