सट्टा मटका, पल भर में बना देगा आपको अमीर, जाने क्या है ये खेल

सट्टा मटका: एक ऐसा नाम जो आजकल भारत में बहुत तेजी से प्रचलित हो रहा है। असल में यह एक तरह का गैंबलिंग का कारोबार है जिसे साधारण भाषा में आप कई लोग सट्टा के नाम से भी जानते है। हालांकि गैंबलिंग यानी की सट्टा का बाजार आज नया नहीं है, यह बहुत ही पहले से बहुत ज्यादा सक्रिय रहा है बस समय के साथ साथ इसके तरीके भी काफी बदल गए हैं, भारत में भी ये बहुत पहले से ही चलन में हैं बस आज इसका नाम और इसे खेलने के तौर तरीके बादल गए हैं। आपको बता दें की आज सट्टा मटका नाम से मशहूर ये गैंबलिंग का खेल ऑनलाइन खेला जाता है और ये सबसे ज्यादा मुंबई और दिल्ली में प्रचलित हैं।

सट्टा मटका : कैसे पड़ा नाम

बता दें की भारत में सट्टा मटका की शुरुआत आजादी से पहले से बताई जाती है। जिस जोश और उत्साह के साथ लोग आज इस खेल को खेलते हैं उतना ही जोश उस दौर में भी हुआ करता था। उस जमाने में सट्टा मटका पारंपारिक तरीके से खेला जाता था, अपने नाम के अनुकूल उस समय मटके के अंदर पर्चियां डाली जाती थी और उसमें नंबर निकाला जाता था और इसी तरह से इसका नाम भी सट्टा मटका पड़ा।

सट्टा मटका का पारंपरिक तरीका

सबसे पहले इस खेल की शुरुआत में कॉटन के दाम पर सट्टा खेला जाता था जो न्यूयॉर्क कॉटन एक्सचेंज से टेलीप्रिंटर के जरिए बॉम्बे कॉटन एक्सचेंज भेजा जाता था। उस दौरान लोग उतनी दूर रहकर भी सट्टा खेलने का अनोखा तरीका ईजाद करे हुए थे और उस समय कॉटन के शुरु होने और बंद होने के दाम पर सट्टा खेला जाता था। आज जिस तरह से हर चीज़ फास्ट और एडवांस हो गयी है उसी के तौर तरीकों पर चलते हुए सट्टा मटका का क्रेज भी युवाओं में काफी देखने को मिल रहा है।

बता दें की सट्टा मटका का क्रेज उस वक़्त सबसे ज्यादा बढ़ जाता हैं जब किसी मशहूर खेल आयोजन होता है। इसमें आईपीएल से लेकर सभी नेशनल गेम में लोग अपने पैसे दोगुना करने के लिए यह खेल खेलते हैं। अपने ध्यान दिया होगा तो देखा होगा की आईपीएल के दौरान बहुत सारे युवा क्रिकेट मैच के अलावा किसी और भी तरह के मैच में काफी रुचि दिखाने लगते हैं और आपको बता दें की इसके चंगुल में ज्यादातर स्कूल और कॉलेज के छात्र फंसे हुए होते हैं। यहाँ पर ध्यान देने वाली बात ये है की इस खेल में शहर के कुछ बड़े व्यवसायी घरानों के लोग सट्टाबाजी के कारोबार को बैकडोर से बढ़ावा देते हैं।

सट्टा मटका : खेलने का तरीका

आपको बता दें की आज सट्टामटका का ये खेल ऑनलाइन खेला जाता है और आप इसे कई अलग अलग वेबसाइट और ऐप्स के जरिए खेल सकते है। मगर आपको यह भी बता दें की हमारे देश में सट्टामटका खेलना कनोनी रूप से अवैध है मगर एक झटके में अपने लगाए हुए पैसे को दुगना करने के लालच में बहुत सारे लोग इस बात की परवाह किए बेधड़क इसे खेलते हैं। 

हालांकि यह खेल कभी खुलेआम नहीं खेला जाता इसे ज़्यादातर लोग चोरी-छिपे ही खेलते हैं। बता दें की सट्टा मटका खेलने वाले को कई सारे नंबर्स में से किसी एक नंबर को चुनना होता है और फिर उस चुने हुए नंबर पर शर्त लगानी होती है। निर्णय आने पर अगर अगर आपका चुना गया नंबर निकाला तो आपा जीत जाते हैं और उस खिलाड़ी को सट्टा किंग कहा जाता है और सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि जीतने के बदले उसे पैसे भी दिए जाते हैं।