राफेल डील: रेलमंत्री पीयूष गोयल ने कहा, “राफेल मामले में राहुल गांधी फैला रहे हैं फेक न्यूज”

राफेल डील पर बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही ओर से आरोप प्रत्यारोप जारी है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा पूछे गए सवालों का जवाब देते हुए केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि राहुल के झूठ का पर्दाफाश फ्रांस की राफेल बनाने वाली कंपनी और फ्रांस की सरकार ने कर दिया है। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर आरोप लगाते हुए कहा है कि राहुल गांधी देश भर में फेक न्युज के जरिए झूठ फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। रेल मंत्री ने कहा कि राहुल ने अब तक न तो अरूण जेटली, न ही रविशंकर प्रसाद और न ही रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के आरोपों का जवाब दिया है।

पीयूष गोयल ने राफेल डील को देश हित में बताया और कहा कि वर्तमान केंद्र की मोदी सरकार ने देश हित को हमेशा ध्यान रखा है। और देश हित को ही तरजीह देते हुए राफेल डील किया गया है। रेल मंत्री कांग्रेस अध्यक्ष को जेंटलमेन से संबोधित करते हुए कहा कि जेंटलमैन फेक न्यूज बना रहे हैं।  उन्होंने कहा कि एक झूठ को 100 बार बोल देने से वह सच में बदल नहीं जाएगा।

यूपीए के समय की तुलना में इस बार बेहतर समझौता- रेल मंत्री पीयूष गोयल राफेल डील को लेकर प्रेस कांफ्रेंस कर रहे थे। उन्होंने कहा कि वर्तमान मोदी सरकार ने 2007 से 2012 की तुलना में बेहतर समझौता किया है। उन्होंने कहा कि हमें तेज डिलवरी, मरम्मत का लंबा समय और स्पेयर पार्ट्स की बेहतर उपलब्धता हासिल हुई है।

डसॉ के सीईओ से हुई बात- केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि कल दसॉल्ट एविएशने के सीईओ से बात हुई उनके द्वारा हमें और अधिक स्पष्ट जानकारी मिली है। दसॉ के सीईओ ने स्पष्ट रूप से कहा है कि ऑफसेट पार्टनर लागू करना जरूरी था। और उन्होंने खुद ऑफसेट को लागू करने के लिए साझेदारों को चुना है। पीयूष गोयल ने कहा कि अब कांग्रेस को ये बात समझ आ जानी चाहिए कि वर्तमान मोदी सरकार पारदर्शिता और संभावना के उच्चतम मानकों की सरकार है।

राहुल गांधी ने राफेल डील मामले में ये बड़ी बात कही है-

  • राहुल ने कहा था कि अनिल अंबानी को राफेल डील में ऑफसेट पार्टनर भारत सरकार ने बनाया था।
  • राहुल गांधी ने फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति और अब राफेल के सीनियर एग्जिक्यूटिव ने अनिल अंबानी को कॉन्ट्रैक्ट दिलवाने का खुलासा कर चुके हैं।

  • कांग्रेस अध्यक्ष का कहना है कि भ्रष्टाचार का इससे साफ मसला नहीं हो सकता है।
  • उन्होंने कहा है कि अगर पीएम इस पर बोल नहीं सकते तो इस्तीफा दे दें।
  • रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण पर आरोप लगाते हुए कहा है कि उन्हें दसॉल्ट कंपनी जाना है इसलिए वो अभी फ्रांस के दौरे पर हैं।
  • राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री अनिल अंबानी के पीएम हैं। देश के नहीं। वे अंबानी जी के चौकीदार हैं।