देखिये क्या हुआ जब नोटबंदी का विरोध करने केजरीवाल आजादपुर मंडी पहुँचे…. वीडियो वायरल!

आप यह अच्छी तरह से जानते हैं कि देश में पुराने नोट बंद हो चुके हैं। ये नोट किस लिए बंद किये गए इसके बारे में भी आप अच्छी तरह से जानते हैं। आपको पता ही होगा कि प्रधानमंत्री की इस घोषणा के बाद काले धन में कितनी कमी आयी है। वहीँ कुछ लोग हैं जो अभी भी अपने राजनीतिक हित के लिए विधवा विलाप करने में लगे हुए हैं। दिल्ली की गलियों में हर रोज कोई ना कोई विरोधी पार्टी का नेता विधवा विलाप करते हुए दिख ही जाता है। अभी हाल ही में यह विधवा विलाप किया है, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और पक्षिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने।

जनता ने लगाए “केजरीवाल चोर है” के नारे:

दरअसल गुरुवार को दोनों ने मिलकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की विमुद्रीकरण योजना के खिलाफ रैली निकाली थी। जैसे है अरविन्द केजरीवाल आजादपुर मंडी पहुँचे जनता की प्रतिक्रिया देखकर उनके होश उड़ गए। जनता ने केजरीवाल की बेइज्जती करते हुए, “केजरीवाल चोर है” के नारे लगाने शुरू कर दिए। गुस्साई हुई भीड़ को देखने के बाद यह अनुमान लगाया जा रहा था कि, इस भीड़ से केजरीवाल का सही- सलामत निकलना मुश्किल है। लेकिन पुलिस की चाक- चौबंद के बीच केजरीवाल सुरक्षित बाहर निकल आये।

साथ में थीं ममता बनर्जी:

आपको ज्ञात होगा कि भारत के कुछ राजनेता प्रधानमंत्री के इस फैसले से बहुत नाराज हैं। गुप्त सूत्रों से पता चला है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पार्टी के भी कुछ लोग इसमें शामिल हैं। गैर तो गैर इस बुरे वक़्त में उनके कुछ अपने लोग भी उनके साथ नहीं हैं। इसके बाद से मोदी जी को काफी दुःख हुआ है। अरविन्द केजरीवाल ने ममता बनर्जी के साथ मिलकर नरेन्द्र मोदी के विरोध में रैली करने की सोची और जनता ने उनकी ही बेइज्जती कर दी। इतना सब हो जाने के बाद भी जनता का भरोसा देश के प्रधानमंत्री पर बना हुआ है।

आप वीडियो में देख सकते हैं कि किस तरह से अरविन्द केजरीवाल अपने रैली को निकाल रहे हैं और एक किनारे कुछ लोग “केजरीवाल चोर है” के नारे लगा रहे हैं। जनता कि यह प्रतिक्रिया देखने के बाद केजरीवाल के होश उड़ गए। उन्होंने क्या सोचा था और क्या हो गया।

वीडियो देखें:

https://youtu.be/5coXkGC-3jE

Leave a Reply

Your email address will not be published.