नाना पाटेकर ने सेना से मिलकर दिया कश्मीरी युवकों को सन्देश, कहा पढ़ लो; इसी से जीवन सुधर सकता है…देखें वीडियो!

नाना पाटेकर जितने अच्छे अभिनेता हैं, उतने ही अच्छे इंसान भी हैं। यह सभी जानते हैं कि नाना पाटेकर एक सच्चे देशभक्त भी हैं। उन्होंने समय- समय पर अपनी देशभक्ति साबित भी की है। बहुत कम ही लोग जानते हैं कि नाना पहले सेना में थे, बाद में उन्होंने फिल्मों को अपना कैरियर बनाया था।

बच्चों पहले पढ़कर मुख्य धारा से जुड़ो:

आपको बता दें आज नाना पाटेकर जवानों से मिलने के लिए कश्मीर गए हुए थे, वहाँ उन्होंने कश्मीर के युवकों को सन्देश दिया है। आपको पता ही होगा कि कश्मीर के युवक भटके हुए हैं, और इसी वजह से वो अलगाववादियों के साथ मिलकर सेना को परेशान करने का काम करते हैं। नाना पाटेकर ने युवकों को सन्देश देते हुए कहा, “कि बच्चों पहले कुछ पढ़ लो और पढ़कर मुख्य धारा में आ जाओ, इसी से इस क्षेत्र का विकास हो सकता है। यहाँ के हालत तभी सुधर सकते हैं, जब यहाँ के
ज्यादा से ज्यादा लोग पढ़े- लिखे होंगे।“

इस देश को अपना देश समझें, तभी बदलाव होगा:

नाना पाटेकर ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि कश्मीरी युवकों को सबसे ज्यादा जरुरत शिक्षा की है। यहाँ के बच्चे पढ़ें, इसके बाद मुख्य धारा से जुड़ें और इस देश को अपना देश समझने लगें, तभी यहाँ के हालात में सुधार हो सकता है। नाना पाटेकर ने प्रधानमंत्री मोदी के नोटबंदी वाले फैसले के पक्ष में बोलते हुए कहा कि, “हम इतने सालों से देश में भ्रष्टाचार झेल रहे हैं, इतना कुछ सह रहे हैं, तो 10- 20 दिन की समस्या क्यों नहीं झेल सकते हैं।

शहीद गुरनाम सिंह के परिवार से मिले:

उन्होंने यह भी कहा कि यह फैसला देशहित में हैं और सबको इस फैसले में प्रधानमंत्री का साथ देना चाहिए। नाना पाटेकर ने वहाँ शहीद जवान गुरनाम सिंह के परिवार वालों से भी मुलाक़ात की एवं उन्हें सांत्वना दिया। आपको बता दें गुरनाम सिंह कठुआ सेक्टर में ही देश की सेवा करते हुए शहीद
हुए थे।

आप भी वीडियो में देख सकते हैं कि नाना पाटेकर ने कैसे कश्मीर के युवाओं को भटकने से रोकने के लिए उनसे पढ़ने की माँग की है। अगर वो पढ़े- लिखे होंगे तो उनके पास अपनी खुद की समझ होगी और वो कोई भी फैसला खुद सोच- समझकर ले सकेंगे।

वीडियो देखें:

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.