अध्यात्म

नवरात्रि व्रत के नियम: भूल कर भी नवरात्र में ना करें ये 10 काम

नवरात्रि व्रत के नियम: हिंदू धर्म में नवरात्रि की अहम भूमिका है. यह त्यौहार दुर्गा माँ के नौं रूपों की पोजा अर्चना का त्यौहार है जोकि साल में दो बार आता है. इनमे से एक नवरात्र को शारदीय नवरात्र और दुसरे नवरात्र को चैत्र नवरात्र कहा जाता है. चैत्र नवरात्र की शुरुआत गर्मियों में होती है और इसी दिन से ही हिंदू पंचांग का नव वर्ष मनाया जाता है. शास्त्रों में बताये नवरात्रि व्रत के नियम गए हैं जिनकी पाना करना बेहद आवश्यक है. दरअसल नवरात्र के नौं दिनों में लोग व्रत रखते हैं और दुर्गा माँ के अलग अलग रूपों की पूजा करने के पश्चात कन्या पूजन करके अपना वर्त्त खोलते हैं.

नवरात्रि के यह नौं दिन काफी शुभ माने जाते हैं इसलिए इनकी शुद्दता के लिहाज़ से शास्त्रों में कुछ ख़ास नियम बनाए गए हैं. नवरात्रि व्रत के नियम की पालना करके हम देवी माँ को प्रसन्न कर सकते हैं और उनके परम भक्त बन सकते हैं. चलिए जानते हैं आखिर नवरात्रि के किन नियमों का पलना करना जरूरी है.

नवरात्रि व्रत के नियम

आपको बता दें कि हिंदू धर्म के शास्त्रों में नवरात्रि के नौं दिनों के लिए कुछ चीज़ों को वर्जित रखा गया है और साथ ही कुछ चीज़ों को अनिवार्य बताया गया है. ऐसा कहा जाता है कि यदि कोई कोई व्यक्ति नवरात्रि व्रत के नियम की पालना करने से चूक जाता है तो उसे उसके व्रतों का पुण्य नहीं मिलता और उसके परिवार के सामने हमेशा कोई ना कोई परेशानी बनी ही रहती है.

शेविंग है वर्जित 

नवरात्रि के नौं दिनों के दौरान यदि आप व्रत रख रहे हैं और पूजा कर रहे हैं तो शेविंग करना आपके लिए वर्जित है. यानी नवरात्रि के नौं दिनों में दाढ़ी, मूंछ कटवाना पाप माना जाता है ऐसा करने से देवी माँ कभी घर में वास नहीं करती.

नाखून काटना

नाखून काटना इंसानों की अच्छी आदतों में से एक है. लेकिन नवरात्रि के नौं दिनों में नाख़ून काटना वर्जित है.

खाली घर

यदि आपने नवरात्रि के लिए कलश एवं मूर्ति स्थापन अकी है तो इस बीच घर को अकेला नहीं छोड़ना चाहिए.

खान-पान

नौं दिनों के इस अंतराल में आपको लहसुन, प्याज और नॉन वेज से परहेज़ रखना चाहिए ऐसे में सात्विक भोजन का सेवन आपके लिए बेहतर साबित होगा.

चमड़े से बनी चीज़ें

यदि आपने नवरात्र के व्रत रखे हैं तो इस बीच आप बेल्ट, चप्पल या चमड़े से बनी किसी भी वास्तु को ना पहने.

काले कपड़े

नवरात्रि लाल चुनर और गुलाल का त्यौहार है ऐसे में काले रंग के कपड़े पहनना बहुत अशुभ माना जाता है.

नमक का सेवन

नवराति के व्रत के समय आप अनाज में नमक का इस्तेमाल भूल से भी ना करें.

तंबाकू, धुम्रपान एवं शराब है वर्जित

नवरात्रि के दिन काफी शुभ माने जाते हैं ऐसे में इन दिनों तंबाकू, धुम्रपान और शराब पीना वर्जित माना गया है.

दिल दुखाना

याद रखें कि इन दिनों के बीच आप भूल से भी किसी का दिल न दुखाएं. ख़ास कर घर के बड़े बजुर्गों का अनादर बिलकुल न करें.

मासिक धर्म

यदि आपके मासिक धर्म का दौर चल रहा है तो इन दिनों आप पूजन ना ही करें.

Related Articles

Close