स्किन कैंसर के ये छोटे-छोटे लक्षण है जिनको आप कर देते हैं अनदेखा, और इससे बचने के उपाय

अगर किसी व्यक्ति को स्किन कैंसर की समस्या होती है तो इसका अनुमान लगाना इतना आसान नहीं है शुरुआती लक्षणों में यह बहुत ही आम लगता है परंतु समय के साथ-साथ धीरे-धीरे यह एक गंभीर रूप ले लेती है आजकल के समय में स्किन कैंसर की समस्या बढ़ती जा रही है यह एक बहुत ही खतरनाक बीमारी है अगर ज्यादा देर तक धूप में रहा जाए तो यह समस्या किसी को भी हो सकती है शरीर के जिन हिस्सों पर सूर्य की किरणें सीधी पड़ती हैं वहां पर स्किन कैंसर होने का खतरा अधिक होता है स्किन कैंसर होने की और भी कई वजह हो सकती हैं यह समस्या होने पर हमारे शरीर में बहुत से परिवर्तन हो सकते हैं अगर इन परिवर्तनों को समय रहते ना पहचाना जाए तो यह हमारे लिए बहुत ही खतरनाक साबित हो सकती है।

आज हम आपको इस लेख के माध्यम से स्किन कैंसर के लक्षण और शरीर में होने वाले बदलाव क्या क्या हैं और इससे कैसे बचा जा सकता है इसके बारे में जानकारी देने वाले हैं।

स्किन कैंसर के लक्षण

अगर व्यक्ति अधिक समय के लिए धूप में रहता है तो इससे त्वचा पर खुजली और जलन होने की समस्या रहती है जो स्किन कैंसर का मुख्य कारण है इसके अलावा गर्दन, माथे, गाल और आंखों के आसपास की स्किन लाल होना या जलन होना, बर्थ मार्क की त्वचा में बदलाव होना, त्वचा पर कई हफ्तों तक धब्बे पड़े रहना यह स्किन कैंसर के लक्षण होते हैं।

स्किन कैंसर से बचने के घरेलू उपाय

हल्दी का प्रयोग

स्किन कैंसर को खत्म करने के लिए हल्दी काफी असरकारक मानी गई है क्योंकि हल्दी में करक्यूमिन तत्व मौजूद होता है जो स्किन कैंसर को खत्म करने के साथ-साथ कैंसर होने से भी रोकता है खासकर ब्रेस्ट कैंसर पेट का कैंसर और स्किन कैंसर में हल्दी ज्यादा प्रभावी है इसलिए आप अपने आहार में हल्दी का प्रयोग अवश्य कीजिए।

बैगन का सेवन

अगर आप बैगन का सेवन करते हैं तो यह कैंसर होने से रोकता है इसलिए आप हफ्ते में कम से कम 2 बार बैगन का सेवन अवश्य कीजिए आप बैगन के अलावा टमाटर आलू शिमला मिर्च का सेवन कीजिए यह सभी चीजें भी कैंसर के खतरे को कम करने में प्रभावी माने गए हैं।

विटामिन डी

सर्दियों के मौसम में 11:00 बजे के पश्चात आधे घंटे से अधिक धूप में मत रहिए अगर आप सुबह सुबह धूप में बैठते हैं तो यह आपके लिए फायदेमंद होता है परंतु अगर आप अधिक समय तक बैठेंगे तो इससे स्किन कैंसर का खतरा होने की संभावना अधिक रहती है।

काली रसभरी के बीजों का तेल

स्किन कैंसर को रोकने के लिए रसभरी के बीच काफी प्रभावी हैं क्योंकि रसभरी के बीजों में एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते हैं जो स्किन कैंसर को नहीं होने देते हैं यदि आप इसका रोजाना नियमित रूप से सेवन करते हैं तो स्किन कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से बचाव होता है काली रसभरी के बीज इम्युनिटी को भी बढ़ाते हैं।

अगर आप स्किन कैंसर से बचना चाहते हैं तो घर से बाहर निकलते समय खुद को अच्छी तरह ढक कर निकले, अगर आपकी त्वचा पर दाग धब्बे होते हैं तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए, अधिक से अधिक पानी का सेवन कीजिए इससे बॉडी हाइड्रेट रहेगी और स्किन कैंसर होने का खतरा नहीं रहेगा, तली-भुनी मसालेदार चीजों से परहेज करें स्किन पर मॉश्चराइजर और सनस्क्रीन लोशन का इस्तेमाल जरूर कीजिए।