बढ़ती उम्र में भी पा सकती हैं ग्लोइंग त्वचा, बस अपनाएं ये 7 घरेलू उपाय

जवानी जिंदगी का एक ऐसा पड़ाव होता है। जिसमें हर कोई हमेशा बना रहना  चाहता है। कोई भी अपने जीवन में बूढ़ा नहीं होना चाहता है। हर किसी की चाहत होती है कि वह हमेशा जवान बना रहे। परंतु बढ़ती उम्र को छुपाना बहुत ही मुश्किल होता है। चेहरी की झुर्रियों और ढीली त्वचा से उम्र का पता लग ही जाता है। उम्र जब 30 के पार हो जाती है तो चेहरे की त्वचा का ढीला पड़ना, बाल सफेद होना जैसी समस्या आपके सामने आने लगती है।

ऐसे में कुछ लोग उम्र छिपाने या कम उम्र का दिखने के लिए क्रीम और दवा का सहारा भी लेते हैं। लेकिन इसके साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं। जबकि सुंदर दिखने और चेहरे की सुंदरता के लिए आप कुछ देसी घरेलू तरीका भी अपना सकते हैं। जिससे आपकी त्वचा सदा जवान और खूबसूरत बनी रहेगी। तो चलिए जानते हैं कि वे कौन कौन से तरीके हैं जिससे आप अपनी बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम कर सकते हैं ।

  • आंवला- आयुर्वेद कहता है कि हर रोज एक आंवला खाना से चेहरे और बालों की खूबसुरती बनी रहती है। आंवला बालों के लिए बहुत ही उपयोगी औषधि है, आंवले के तेल से बाल स्वस्थ और घने बने रहते हैं। आंवले के सेवन से चेहरे में उम्र बढ़ने की प्रक्रिया भी धीमी होती है।
  • तनाव से दूर रहना- हमेशा मानसिक चिंता रहे तो इंसान समय से पहले उम्रदराज दिखने लगता है। तनाव का असर चेहरे पर साफ साफ दिखाई देता है। इसलिए कोशिश करें कि अधिक तनाव वाले माहौल में न रहें और खुद को तनाव से दूर रखें। इस चीज के लिए आप मेडिटेशन का सहारा भी ले सकते हैं।
  • मछली के तेल का सेवन- थोड़ी सी कसरत के साथ अगर मछली के तेल का सेवन किया जाए तो आप जवां दिख सकते हैं। इससे उम्र बढ़ने की प्रक्रिया भी धीमी होती है।

  • आंखों का ख्याल रखें- आंख के आस पास वाले जगह को हाइड्रेट बनाए रखें। इसके लिए आप अपने पसंद से कोई भी क्रीम चुन सकते हैं। आंखों के आस पास वाले इलाके को हाइड्रेट रखने से वहां लाइन्स नहीं पड़ते। ये लाइन्स आपको बूढ़ा दिखाने लगती है।
  • अपने त्वचा का ख्याल रखें- हर मौसम चाहे वो सर्दी हो या गर्मी अपनी त्वचा का ख्याल रखना बहुत ही जरूरी है। तीस की उम्र के बाद त्वचा में एजिंग के साइन दिखने लगते हैं। इसलिए धूप में बाहर निकलने से पहले स्कीन क्रीम जरूर लगाएं।

  • स्किन को माइश्चराइज्ड रखें- झुर्रियों को छिपाने के लिए त्वचा में नमी बनाए रखें। अगर चेहरे पर नमी नहीं रहेगी तो झुर्रियाँ अधिक दिखने लगेंगी। तीस की उम्र के बाद खूब पानी पिएं। और मॉइश्चराइजर क्रीम का इस्तेमाल करें।
  • खान पान का खास ख्याल रखें- वैसे तो खान पान का ख्याल हर उम्र के व्यक्ति को रखना चाहिए। लेकिन तीस की उम्र के बाद अपने डाइट में ओमेगा-3 और ओमेगा-6 फैटी एसिड को शामिल करें। इससे त्वचा कोमल बनी रहेगी और रूखी सूखी त्वचा नहीं होगी।

जवां रहने के लिए खाने में क्या क्या शामिल करें- पर्याप्त पोषक तत्व, हरी सब्जी, फल और दूध अपने डाइट में शामिल करें। इससे शरीर को ताकत और त्वचा को जरूरी पोषक तत्व मिलता है।

  • फलों में पपीता, तरबूज, आंवला, संतरा, निंबू के नियमित सेवन से शरीर में जल्दी बुढ़ापा नहीं दिखता।
  • राजमा का सेवन भी बेहतर होता है क्योंकि इसमें पोटैशियम और फाइबर की मात्रा अधिक होती है जो कोलेस्ट्राल लेवल को कम करता है।
  • ब्लूबेरी- इसमें विटामिन सी होता है, जिसके सेवन से खून का संचार ठीक रहता है। और उम्र बढ़ने की गति भी धीमी होती है।
  • अधिक पानी पीने से चेहरे में झुर्रियां कम पड़ती हैं। पूरे दिन भर में चार लीटर पानी पीने से चेहरे में झुर्रियों की समस्या नहीं आती ।