महालक्ष्मी जी करेंगीं मालामाल, बस जन्माष्टमी की रात झाडू से जुड़ी हुई इन बातों का रखें ध्यान

दोस्तों जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं कि जन्माष्टमी का त्योहार आ गया है और सभी लोग नटखट नंदलाल के भक्त इनके जन्मदिन की तैयारियों में लगे हुए हैं जन्माष्टमी के त्यौहार की तैयारियां देशभर में बहुत ही जोरों शोरों से लोग करने में लगे हुए हैं इस बार श्री कृष्ण जी की 5245वीं जयंती है ऐसा माना जाता है कि भगवान श्री कृष्ण का जन्म भाद्रपद यानी भादो माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को हुआ था इसलिए यह त्यौहार कृष्ण जन्माष्टमी के नाम से जाना जाता है वैसे देखा जाए तो इस बार जन्माष्टमी की तारीख को लेकर लोगों में काफी असमंजस है क्योंकि इस बार जन्माष्टमी का त्यौहार 2 दिन पड़ रहा है इस बार यह त्यौहार रविवार यानी 2 सितंबर से शुरू हो रहा है और अगले दिन 3 सितंबर तक चलने वाला है।

जो भक्त जन्माष्टमी का व्रत रखना चाहते हैं उनको पूर्वोक्त द्वादशाक्षर मंत्र से और अगले दिन प्रातः हवन करके व्रत का धारण करना चाहिए शास्त्रों के अनुसार जिन लोगों को संतान प्राप्ति नहीं हो पा रही है, जो व्यक्ति पितृ दोष से पीड़ित हैं, जन्मकुंडली में कई दोष हैं उन व्यक्तियों को जन्माष्टमी का व्रत निष्ठापूर्वक करना चाहिए इससे जिन व्यक्तियों को संतान प्राप्ति की लालसा है उनको सुयोग्य संस्कारी और दिव्य संतान की प्राप्ति होगी, कुंडली के सारे दुर्भाग्य सौभाग्य में बदल जाएंगे, पितरों को स्वयं नारायण अपने हाथों से जल देकर मुक्ति प्रदान करेंगे इसके अलावा जिन व्यक्तियों के परिवार में क्लेश रहता है अशांति का वातावरण फैला रहता है उन व्यक्तियों को जन्माष्टमी का व्रत जरूर करना चाहिए।

वैसे देखा जाए तो हर घर में एक पूजा का स्थान होता है और घर के इस मंदिर में साफ सफाई रखना बहुत ही जरूरी है घर को साफ और सुंदर बनाने के लिए जो चीज उपयोग में लाई जाती है वह “झाड़ू” है स्वच्छता की शुरुआत झाड़ू से ही होती है जिस घर में साफ सफाई रहती है वहां पर माता लक्ष्मी जी का आगमन होता है झाड़ू एक ऐसी चीज है जिसका इस्तेमाल करके हम घर की दरिद्रता को दूर कर सकते हैं और सुख समृद्धि की प्राप्ति कर सकते हैं आज हम आपको इस लेख के माध्यम से आपको झाड़ू को किस स्थान पर रखना चाहिए जिससे आपके घर की दरिद्रता दूर हो जाए इसके बारे में जानकारी देने वाले हैं।

आइए जानते हैं झाड़ू से जुड़ी इन बातों के बारे में

  • आप झाड़ू को भूलकर भी घर के मुख्य द्वार पर ना रखें अगर आप ऐसा करते हैं तो इससे घर में नकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश होता है।
  • झाड़ू को दिन में छुपाकर और रात में मुख्य द्वार के पास रखना चाहिए इससे घर में नकारात्मक चीज प्रवेश नहीं कर पाती है।
  • आप झाड़ू को कभी भी रसोईघर में ना रखें क्योंकि ऐसा करने से घर में दरिद्रता आती है।
  • किसी भी जानवर को या फिर किसी भी व्यक्ति को भूलकर भी झाड़ू से ना मारे यह अशुभ माना गया है।
  • अगर आपका पैर गलती से भी झाड़ू पर लग जाता है तो इससे माता लक्ष्मी जी नाराज होती है।
  • सूर्यास्त के बाद कभी भी झाड़ू नहीं लगाना चाहिए।
  • घर के लिए एक साथ तीन झाड़ू खरीदना चाहिए और झाड़ू को कभी भी खड़ा कर के नहीं रखना चाहिए यह अपशगुन होता है।

हम आशा करते हैं कि आपको हमारे द्वारा दी हुई जानकारी अवश्य पसंद आई होगी आप अपना सुझाव नीचे दिए हुए कमेंट बॉक्स में हमको कमेंट करके दे सकते हैं आप अपना सहयोग हमारे साथ बनाए रखें हम इसी प्रकार से जानने योग्य जानकारियां लेख के माध्यम से लाते रहेंगे धन्यवाद।