आतंकियों के निशाने पर सेना के साथ-साथ पुलिसकर्मी, 8 पुलिसकर्मियों के रिश्तेदारों को किया अगवा

नई दिल्ली: घाटी में आए दिन आतंकी किसी ना किसी को अपना निशाना बना रहे हैं,। आए दिन आतंकी पुलिस या सेना को अपना निशाना बनाते ही रहते हैं। लेकिन इस बार मामला कुछ और ही है। जी हाँ जम्मू-कश्मीर से एक बहुत बड़ी ख़बर सामने आयी है। यहाँ आतंकियों ने आठ लोगों को अगवा कर लिया है आपको बता दें ये 8 लोग कोई आम नागरिक नहीं बल्कि यहाँ के पुलिसकर्मियों के रिश्तेदार हैं। घाटी में अशांति फैलाने वाले आतंकियों ने इस तरह का काम पहले नहीं किया था।

घाटी में बना हुआ है दहशत का माहौल:

इसे देखकर यही लगता है कि जम्मू-कश्मीर के आतंकी पुलिस की दखलंदाजी से तंग आ गए हैं और उनसे बदला लेने के लिए नया तरीक़ा अपना रहे हैं। पहले सेना और पुलिस को निशाना बनाने वाले ये आतंकी अब तो हद ही पार कर चुके हैं। स्थनी नागरिकों के बाद अब आतंकियों के निशाने पर सेना और पुलिस के परिवार वाले भी आ गए हैं। इस घटना के बाद से पूरे घाटी में दहशत का माहौल बना हुआ है। जब पुलिस वालों के घर के लोग ही सुरक्षित नहीं है तो फिर आम आदमी घाटी में कैसे सुरक्षित रह सकता है।

शुक्रवार तक आतंकियों ने गिरफ़्तार किया आठ लोगों को:

जानकारी के अनुसार शुक्रवार तक आतंकियों ने जम्मू-कश्मीर से आठ लोगों को अगवा कर लिया। हैरान करने वाली बात ये है कि ये सबहि आठ के आठ लोग पुलिसकर्मियों के रिश्तेदार बताए जा रहे हैं। इसमें से कुछ पुलिसकर्मियों के परिवार वाले भी शामिल हैं। वहीं पुलिस ने समय ना गँवाते हुए अगवा हुए लोगों की तलाश में सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है। आपको बता दें कुछ दिनों पहले ही हिज़बुल मुजाहिदीन सरगना सैय्यद सलाउद्दीन के बेटे शकील को गिरफ़्तार किया गया था। उसके बाद से ही ये घटनाएँ ज़्यादा होने लगी हैं।

अगवा होने वालों में पुलिसकर्मियों के रिश्तेदार और परिवार वाले शामिल:

इससे यही उम्मीद लगायी जा रही है कि आतंकी कहीं परिवार के सदस्यों के बदले में शकील को रिहा करने की माँग तो नहीं करने वाले हैं। इसी वजह से आतंकियों ने पुलिसकर्मियों के परिवार वालों और रिश्तेदारों को अगवा किया है। हालाँकि पुलिस अभी तक इस तरह की बात से इनकार कर रही है। आपको बता दें अगवा होने वाले लोगों में आरिफ़ अहमद- एसएचओ नाज़िर अहमद के भाई, ज़ुबैर अहमद भट्ट-पुलिसकर्मी मुहम्मद मक़बूल के बेटे, सुमैर अहमद- पुलिसकर्मी अब्दुल सलाम के बेटे, फ़ैज़ान अहमद- पुलिसकर्मी बशीर अहमद के बेटे, गौहर अहमद- डीएसपी एजाज़ के भाई शामिल हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें जम्मू-कश्मीर में पुलवामा जिले में आतंकियों ने एक पुलिसकर्मी के घर पर धावा बोल दिया था और घर में खेल रहे बच्चे को अपने साथ उठा ले गए, जिस समय आतंकियों ने इस नापाक घटना को अंजाम दिया, उस समय पुलिसकर्मी घर में मौजूद नहीं था। पुलिसकर्मी की पहचान मिडारा निवासी ग़ुलाम हसल मीर के रूप में की गयी है। घाटी में इस तरह की बढ़ती घटनाओं ने पूरे देश को सकते में डाल दिया है। पूरे देश में इस समय कश्मीर में घट रही घटनाओं के बारे में ही बात किया जा रहा है।

error: Content is protected !!