ब्रेकिंग न्यूज़

“नेता” ऐप ने लगाया अनुमान, अगर आज आम चुनाव हुए तो बीजेपी को मिल सकती है इतनी सीटें

इंटरनेट और मोबाइल फोन ने निश्चित तौर पर आम जन जीवन को बदल दिया है। इसके साथ ही सोशल मीडिया ने देश की सियासी रंग को भी बदल कर रख दिया है। जनप्रतिनिधि की रेटिंग तय करने वाला ऐप “नेता” ( नेशनल इलेक्टोरल ट्रांसफारमेशन एप्लीकेशन) ने अनुमान लगाया है कि अगर आज देश में आम चुनाव होते हैं तो भाजपा को 212 सीटें मिल सकती हैं। वहीं कांग्रेस को 110 सीटों से ही संतोष करना पड़ सकता है।  ये अनुमान विधायकों, जनप्रतिनिधयों को रेटिंग देने वाली एप नेता ने लगाया है। इस एप को कल पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने लॉन्च किया था।

इस एप को लॉन्च करते हुए प्रणब मुखर्जी ने कहा था कि आज हमारे देश के युवा हर क्षेत्र  में बेहतरीन काम कर रहे हैं। यह नया ऐप भी एक युवा सोच का ही परिणाम है। उन्होंने कहा कि जनतंत्र में जनता की राय काफी अहम है और लगता है इस दिशा में यह ऐप कारगर सिद्ध होगा। आगे उन्होंने कहा कि इस तरह के ऐप जनता की भागीदारी बढ़ाएंगे।

आज इस सर्वे के आने से इस एप को बनाने वाले प्रथम मित्तल ने कहा कि आज की स्थिति में देश में आम चुनाव हो तो बीजेपी को 220 और वहीं कांग्रेस को 110 सीटें मिलने का अनुमान जताया है। हालांकि उन्होने कहा कि यह ट्रेंड बदलता रहता है। क्योंकि अभी व्यवस्था विरोधी लहर चल रही है। इसलिए यह आंकड़े सामने आए हैं। मित्तल ने बताया कि आगामी विधानसभा के लिए भी मध्यप्रदेश व राजस्थान में इस ऐप का प्रयोग किया गया है । दोनों ही राज्यों में कांटे की टक्कर दिख रही है।

प्रथम मित्तल ने कहा कि ये एप हर नागरिक को अपने पार्षद, विधायक, सांसद के कामगाज की रेटिंग की सुविधा देता है। इससे नेता को भी पता चलता है कि उसकी क्या रेटिंग है और वह इस रेटिंग के हिसाब से अपने कामकाज को सुधार सकता है। मित्तल ने कहा कि अगर किसी भी नेता को इस ऐप में बेहतर रेटिंग चाहिए तो उसे बेहतर स्कोर करना होगा।

मित्तल ने इस बात का दावा किया है कि कल इसकी औपचारिक लॉन्चिंग से ही इसके 10 लाख यूज़र बढ़ गए हैं। उन्होने कहा कि नेता एप बिल्कुल सही रेटिंग देता है। किसी भी प्रकार के हेराफेरी से बचने के लिए इसमें कई स्तर के सेफगार्ड लगाए गए हैं। उन्होंने कहा कि मतदाता की पहचान करने के लिए आधार रिक्गनाइजेशन से लेकर अन्य 4 स्तरों के पड़ताल के बाद ही वोटिंग करने का अधिकार प्राप्त होगा।

Back to top button