विशेष

वीडियो : जब सोनिया गांधी की हरकत पर भड़के थे अटल जी, डांटकर सिखाया व्यवहार

16 अगस्त की शाम भारत के पूर्व प्रधानमंत्री और सबसे लोकप्रिय नेता अटल बिहारी वाजपेयी जी का स्वर्गवास हो गया था. पूरा देश उनके जाने   से दुखी हो गया और उन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि प्रदान की गई. उनकी अंतिम यात्रा में हजारों लोग सड़क पर आ गए थे. जिस समय अटल जी की तबियत बहुत ज्यादा खराब थी तब पूरा देश हवन, पूजा और मदरसे में उनकी सेहत के लिए दुआ कर रहा था. वैसे तो अटल जी की उम्र लगभग 94 वर्ष थी और वे कई सालों से बीमार थे लेकिन उनके स्वर्गवास से देश को करारा झटका सा लगा. इसी बीच अटल जी का वो वीडियो वायरल होने लगा जिसमे उन्होने उस समय की कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को शब्दों के दायरों में रहकर कुछ फटकार लगाई है और ये भी सिखाया कि किसी से व्यवहार कैसे करते हैं. सोनिया गांधी ने ऐसा क्या कह दिया था अटल जी को जिससे वे बेहद नाराज भी हुए थे. जब सोनिया गांधी की हरकत पर भड़के थे अटल जी, चलिए बताते हैं आपको ये पूरी खबर.

जब सोनिया गांधी की हरकत पर भड़के थे अटल जी

अटल बिहारी वाजपेयी हर किसी से मिलजुल कर रहते थे और विपक्ष के साथ भी दोस्तों जैसा व्यवहार करते थे लेकिन अगर उन्हें क्रोध आता था तब कोई बच नहीं पाता था. संसद में या किसी भाषण के दौरान वे बोलना शुरु करते थे तो अच्छे अच्छों की बोलती बंद हो जाती थी. अटल जी शब्दों की मर्यादा में रहकर विपक्ष पर शब्दों का ऐसा प्रहार करते थे कि विपक्ष उनके सामने ढेर से हो जाते थे. इस बात का अंदाजा शायद सोनिया गांधी को नहीं था. दरअसल साल 2003 में नेता प्रतिपक्ष सोनिया गांधी पर अटल जी बहुत नाराज हो गए थे जिसका कारण ये था कि सोनिया गाँधी ने सरकार पर हमला बोलने के लिए जिन शब्दों का चयन किया था वो अटल जी को पसंद नहीं आए और उन्होंने सदन में ही सोनिया गाँधी से इस पर आपत्ति दर्ज करायी और फटकार भी लगायी थी जिसका सबूत उस वीडियो में साफतौर पर नजर आया. संसद में भाषण देते हुए अटल जी ने सोनिया गाँधी की तरफ रुख करते हुए कहा, ”आपने एक ही वाक्य में Incompetent (अक्षम), Insensitive (असंवेदनशील), Irresponsible (गैर जिम्मेदार) और Brazenly Corrupt (भ्रष्टतम) जैसे शब्दों का प्रयोग किया है. राजनीतिक क्षेत्र में जब लोग कंधे से कंधा मिलकर चल रहे हैं तो मतभेद भी होंगे ही. उनके बारे में आपका ये मूल्यांकन है? मतभेद प्रकट करने का ये तरीका है? ऐसा लगता है जैसे शब्दकोश से शब्दों को ढूंढ ढूंढ कर निकाले गए हैं.” अटल जी ने सोनिया गाँधी को समझाते हुए कहा था कि भारत में इन शब्दों से अपने राजनीतिक विरोधियों पर हमला करने की सभ्यता सही नहीं है. बाकी मंजर आप वीडियो में देख सकते हैं.

देखें वीडियो-

अटल जी का व्यक्तित्व कुछ ऐसा था कि पिछले 9 सालों से वे सत्ता से दूर थे लेकिन फिर भी उनकी अंतिम यात्रा में इतने सारे लोगों को अपनी ओर आकर्षित कर लिया. अटल जी के लिए सभी बहुत रोए और पूरे देश में हर धर्म के लोग उन्हें एक अच्छा व्यक्ति ही मानते थे. हम सभी उन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि देते हैं.

Show More

Related Articles

Back to top button
Close