ब्रेकिंग न्यूज़

पठानकोट आतंकी हमलाः ”गैर जिम्‍मेदाराना” कवरेज पर एनडीटीवी इंडिया पर लगा बैन

नई दिल्ली – पठानकोट हमले के दौरान एनडीटीवी इंडिया ने अपने चैनल पर कुछ ऐसा दिखाया था, जो उसे नहीं दिखाना चाहिए था, इसलिए केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने उसे एक दिन तक बंद रखने का आदेश दिया है।  केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्रालय ने पठानकोट हमले के दौरान एनडीटीवी इंडिया की कवरेज पर सवाल उठाते हुए यह कार्रवाई की है। एनडीटीवी इंडिया पर नियमों को तोड़कर रिपोर्टिंग करने का आरोप था। Ban imposed on NDTV India. 

संवेदनशील जानकारियों का किया खुलासा –

तकनीकी रुप से कहे तो एनडीटीवी इंडिया ने पठानकोट हमले के दौरान न्यूज चैनल पर दिखाए जाने वाले कॉन्टेंट के लिए बनाए गए प्रोग्राम कोड को तोड़ा, जिसकी वजह से मंत्रालय ने उसे एक दिन तक ऑफ-एयर रहने का आदेश दिया है।  

दरअसल, जब आतंकवादियों ने पठानकोट में हमला किया था, तो हर टीवी चैनल ने पुरे जोश के साथ उसका कवरेज किया था। उस दौरान एनडीटीवी इंडिया ने टीवी पर कुछ ऐसी चीजें दिखा दी थीं, जिससे सरकार की आतंकवादियों के खिलाफ बनाई गई रणनीति से जुड़ी संवेदनशील जानकारियों का खुलासा हो गया था।   

चैनल ने लाइव दिखाई थी ये अहम जानकारी –

मंत्रालय के अनुसार, पठानकोट हमले के दौरान एनडीटीवी इंडिया ने एयरबेस में मौजूद हथियारों की जानकारी दी थी। जिस वक्त एयरबेस में ऑपरेशन चल रहा था तब चैनल ने अपनी रिपोर्ट में बताया था कि वहां हथियारों के अलावा एमआईजी, फाइटर प्लेन, रॉकेट लॉन्चर, मोर्टार, हेलीकॉप्टर और फ्यूल टैंक भी रखे हैं।

समिति ने जांच के दौरान पाया कि चैनल द्वारा पठानकोट हमले के कवरेज के दौरान गैर जिम्मेदाराना रवैये अपनाया गया। जिससे न केवल राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा पहुंच सकता था बल्कि आम लोगों और सुरक्षाकर्मियों की जान को खतरा पहुंच सकता था क्योंकि आतंकी भी टीवी चैनलों के लगातार संपर्क में थे।   

 

अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करके किया विरोध –

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सरकार द्वारा एनडीटीवी इंडिया पर बैन को लेकर एक ट्वीट करके कहा कि सारे चैनलों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आरती उतारनी चाहिए वरना उन्हें भी बंद कर दिया जाएगा। केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘सुन लो सारे चैनल वालों। अगर मोदी जी की आरती नहीं उतारी तो आपका चैनल भी बंद कर देंगे।’ 

एनडीटीवी इंडिया को 9 नवंबर को दोपहर एक बजे से 10 नवंबर को दोपहर एक बजे तक बंद रखा जाएगा। इसका दौरान चैनल का प्रसारण पूरी तरह प्रतिबंधित होगा। देश में यह पहला मौका है जब आतंकी हमलों की कवरेज करने पर इस तरह किसी चैनल के प्रसारण पर रोक लगी है।

Related Articles

Close