क्या आप जानते हैं सच्चा प्यार पहली नजर में नहीं बल्कि चौथी नजर में होता है!

प्यार के बारे में सबकी अपनी- अपनी परिभाषा होती है। यह एक ऐसा मुद्दा है जिसपर आप दावे के साथ कुछ भी नहीं कह सकते हैं। आज जो परिस्थति है कल वह नहीं रहती है। इसमें हमेशा नयापन आता रहता है। आप यह नहीं कह सकते हैं कि कल जिस तरह से आपने किसी को प्रभावित किया था, आज भी उसी तरह से प्रभावित कर सकते हैं। फिल्मों ने हर चीज की परिभाषा ही बदल दी है। अब प्यार को ही ले लीजिये फिल्मों में हिरोइन से हीरो मिलता है और उसे पहली नजर में ही प्यार हो जाता है। वह उसके लिए जीने मरने को तैयार हो जाता है।

love-forth-sight-newstrend-01-11-16-2

बड़ा ही रोमांचक होता है किसी से पहली नजर में प्यार हो जाना

अक्सर कुछ दोस्त भी अपने पहले नजर के प्यार के बारे में बातें करते हैं। बड़ा ही रोमांचक होता है किसी से पहली नजर में प्यार हो जाना। लेकिन क्या यह वाकई में हो सकता है, या बस फिल्मों का फैलाया हुआ भ्रम है। आइये जानते हैं इसके बारे में वैज्ञानिक क्या कहते हैं? आखिर क्या है पहली नजर के प्यार का राज?

पहली नजर में प्यार का होना नामुमकिन है।

हाल ही में एक शोध किया गया है जिसके अनुसार, पहली नजर में प्यार का होना नामुमकिन है। यह संभव ही नहीं है कि किसी को पहली बार देखकर ही प्यार हो जाए। किसी से प्यार पहली नजर में नहीं बल्कि चौथी नजर में होता है। जिस व्यक्ति को हम पहली बार देखते हैं और उससे आकर्षित होते हैं, अगर वह लगातार चार बार मिलता है तो उससे प्यार होने की सम्भावना ज्यादा रहती है। यह बातें बिलकुल भ्रामक हैं कि किसी से पहली बार में प्यार हो जाता है।

पहली बार किसी को देखने पर प्यार नहीं होता है बल्कि केवल आकर्षण होता है

यह शोध अमेरिका के एक कॉलेज में किया गया है। वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि पहली बार किसी को देखने पर प्यार नहीं होता है बल्कि केवल आकर्षण होता है। उसी आकर्षण का नतीजा होता है कि हम उसकी ओर खींचे चले जाते हैं। लोगों को ऐसा लगता है कि उसे उससे प्यार हो गया है, जबकि ऐसा होता नहीं है। वैज्ञानिकों ने कहा है कि हम आकर्षित जरुर होते हैं, लेकिन हमारा दिल इस बात को स्वीकार नहीं करता है कि प्यार हो गया है। इंसान का दिल पहली बार मिलने से प्यार जैसे अहसास तक नहीं पहुँच पाता है।

जब आप किसी से पहली बार मिलते हैं और आपको लगता है कि आपको प्यार हो गया है तो आपको उससे तीन बार इसी फीलिंग के साथ मिलना होगा। तब जाकर आपको उससे सच्चा वाला प्यार हो सकता है। अगर पहली बार में आपकी फीलिंग जैसी है, दूसरी बार मिलने के बाद फीलिंग वैसी नहीं है तो प्यार होना असंभव है। तो अगर आपको ऐसा लगता है कि किसी से आपको पहली नजर में प्यार हो गया है तो आप उससे किसी बहाने से तीन बार और मिलिए।