कर्नाटक से मोदी का वार, ‘आलू से सोना निकालने वाले आज कर रहे हैं किसानों की बात’

कर्नाटक में एक बार फिर से चुनावी प्रचार करने पहुंचे पीएम मोदा ने राहुल गांधी पर जबरदस्त हमला बोला है। इस दौरान पीएम मोदी अपनी सरकार की जमकर तारीफ करते हुए नजर आएं तो वहीं कांग्रेस को बुरी तरह से लताड़ा। जी हां, पीएम मोदी ने राहुल के उस बयान को लेकर एक बार फिर से मजाक उड़ाया जिसमें राहुल ने आलू से सोना निकालने की बात कही थी। गुजरात चुनाव के बाद एक बार फिर से राहुल के इस बयान को वायरल किया जा रहा है, ताकि बीजेपी को गुजरात की तरह कर्नाटक चुनाव में भी  काफी फायदा मिल सके, तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

कांग्रेस अध्यक्ष पर पीएम मोदी ने हमला करते हुए कहा कि जो लोग कभी आलू से सोना निकालने की बात करते थे, वो आज किसानों की बात कर रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि अगर कांग्रेस ने किसानों के लिए कुछ किया होता तो आज मेरा किसान खेत से सोना निकाल रहा होता, लेकिन हम तो सिर्फ कांग्रेस के पापों को धोने का काम कर रहे हैं, लेकिन फिर भी ये कांग्रेसी हमसे यह पूछते हैं कि हमने चार सालों में क्या किया, अरे हम तो वहीं काट रहे हैं, जो आपने 70 सालों से बो कर दिया है हमें।

पीएम मोदी ने अपने भाषण को आगे बढ़ाते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी हर चुनाव सिर्फ गरीब गरीब करके वोट पाना चाहती है, लेकिन पार्टी ने आज तक गरीबों के लिए कुछ नहीं किया है, सिवाय माला जपने के। राहुल गांधी पर वार करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष मुझसे सवाल करते हैं, लेकिन खुद के पास किसी सवाल का कोई जवाब नहीं होता है। मोदी ने आगे कहा कि कांग्रेस के लीडर जिन्‍हें हरा मिर्च-लाल मिर्च नहीं पता, आलू से सोने की बात करते हैं, वे भी आज किसान की बातें कर रहे हैं, ऐसे में ये सिर्फ जनता को गुमराह करने का काम कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने इससे पहले कर्नाटक की कांग्रेस सरकार को देश की नंबर वन भ्रष्टाचार सरकार करार दिया, जिसके बाद कांग्रेस ने पलटवार करते हुए कहा था कि मोदी जी को ऐसी भाषा शोभा नहीं देती है, उन्होंने कर्नाटक का अपमान किया है, जिसकी वजह से अब उन्हें कर्नाटक की जनता से माफी मांगनी चाहिए, तो वहीं पीएम मोदी का कहना है कि जनता अब कांग्रेस को उसके आखिरी किले से भी बाहर फेंक के रहेगी, क्योंकि अब कर्नाटक को विकास चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.