कुमार विश्वास पर केजरीवाल ने लिया बड़ा एक्शन, लीगल सेल को पार्टी से किया बाहर

आम आदमी पार्टी में इन दिनो कुछ ठीक ठाक नहीं चल रहा है। जी हां, कभी केजरीवाल के सबसे विश्वसनीय रहे कुमार विश्वास को आज पार्टी में अलग रवैये का सामना करना पड़ रहा है। बता दें कि केजरीवाल के साथ कभी कंधे से कंधे मिलाने वाले कुमार विश्वास पर अब केजरीवाल को जरा भी भरोसा नहीं है, क्योंकि कुमार पार्टी को लेकर लगातार हमला बोलते हुए नजर आते हैं। ऐसे में एक बार फिर से केजरीवाल ने कुमार को लेकर बड़ा फैसला किया, इससे पहले भी कुमार पर पार्टी बड़े बड़े एक्शन ले चुकी है। आइये जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

कुमार विश्वास और केजरीवाल ने एक साथ मिलकर आम आदमी पार्टी की स्थापना किया था, लेकिन आज पार्टी में सिर्फ केजरीवाल की चलती है, जिसकी वजह से पार्टी से  नाराज हो चुके हैं कुमार विश्वास। बता दें कि कुमार विश्वास सोशल मीडिया पर केजरीवाल पर बड़े बड़े आरोप लगाते हुए नजर आते हैं, जिसकी वजह से अब धीरे धीरे कुमार विश्वास से पार्टी का हर पद छीना जा रहा है, ऐसे में अब केजरीवाल को कुमार पर एक रूपये का भी भरोसा नहीं रह गया है। ऐसे में अब केजरीवाल ने कुमार के समर्थक को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया है।

कुमार विश्वास

याद दिला दें कि हाल ही में कुमार विश्वास से राजस्थान प्रदेश प्रभारी का पद भी छीना गया, जिसके बाद कुमार विश्वास ने ट्विटर पर अपने दर्द को लिखा था। बता दें कि कुमार विश्वास राज्यसभा जाना चाहते थे कि लेकिन पार्टी ने उनकी जगह दूसरे को भेज दिया, ऐसे में कुमार विश्वास पार्टी को लेकर और भी बागी हो गये। हालांकि, कुमार विश्वास पार्टी छोड़ने की बात नहीं करते हैं, बल्कि केजरीवाल पर तानाशाही का आरोप लगाते हैं, जिसकी वजह से अब कुमार के लीगल सेल को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया है।

कुमार विश्वास

राजस्थान चुनाव को लेकर आम आदमी पार्टी ने कहा कि राजस्थान में पूरी तरह से चुनाव लड़ेगी, ऐसे में अब वो अपने पार्टी को मजबूत और विस्तार करने की तरफ ध्यान दे रही है। विश्वास को लेकर केजरीवाल भले ही साफ साफ नहीं कहते हैं, लेकिन उन पर किसी भी तरह का एक्शन लेने से जरा भी नहीं कतराते हैं, ऐसे में दोनों के बीच अगर यह कहा जाए कि 36 का आकड़ा है, तो यह गलत नहीं होगा, क्योंकि अब न तो दोनों एक मंच पर दिखते हैं, और न ही कभी एक साथ।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.