इस व्यक्ति की वजह से नरेन्द्र मोदी बने भारत के प्रधानमंत्री, 4 साल बाद खुद किया खुलासा

नई दिल्ली: भारत के प्रधामंत्री नरेन्द्र मोदी के बारे में किसी को कुछ भी बताने की जरुरत नहीं है। नरेन्द्र मोदी ने जब से भारत के प्रधानमंत्री की कुर्सी संभाली है तब से भारत को एक अलग वैश्विक पहचान मिली है। पीएम मोदी की गिनती विश्व के प्रभावशाली नेताओं में होती है। पीएम मोदी अपने अंदाज की वजह से पुरे विश्व में लोकप्रिय हैं। इनके बोलने का लहजा हर किसी को इनका दीवाना बना देता है। ये किसी सामान्य बात को भी बहुत खास बना देते हैं।

पीएम मोदी ने शनिवार को छत्तीसगढ़ के बीजापुर में केंद्र की महत्वाकांक्षी आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत देश के पहले हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर का उद्घाटन किया। यह आयोजन भारत के कानून निर्माता बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर की 127वीं जयंती पर किया गया था। अपने भाषण के दौरान पीएम मोदी ने कई सामान्य बातों को अपने अंदाज में कहकर बहुत ही खास बना दिया। आपको जानकर हैरानी होगी कि भारत के प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के चार साल बाद पीएम मोदी ने खुद के प्रधानमंत्री बनने का श्रेय बाबा साहेब आंबेडकर को दिया।

पीएम मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत बाबा साहेब आंबेडकर की तारीफों के साथ की। मोदी ने अपने भाषण के दौरान कहा कि, “बाबा साहेब के प्रयासों की वजह से ही समाज के हर तबके के लोगों को नए अवसर मिले हैं। अति पिछले समाज से आने वाला आपका साथी आज प्रधानमंत्री बना है, यह बाबा साहेब की ही देन है। बाबा साहेब ने हर वर्ग के अन्दर आगे बढ़ने की आग भरी थी। मेरे जैसे लाखों-करोड़ों लोगों की महत्वाकांक्षाओं, उम्मीदों को जगाने में बाबा साहेब आंबेडकर की बहुत बड़ी भूमिका है।“

पीएम मोदी के भाषण की खास बातें:

*- अगर किसी कमजोर छात्र को एक अच्छा शिक्षक आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है तो वह बेहतर भविष्य बना सकता है। मैं वही विश्वास जगाने आया हूँ, आप कोशिश कीजिये, केंद्र सरकार आपके साथ खड़ी है।

*- जैसे हर फसल को विकास के लिए अलग-अलग मात्रा में पानी की जरुरत होती है, वैसे ही हर जिले को अपने विकास के लिए अपना अलग-अलग डेवलपमेंट प्लान बनाना चाहिए।

*- जिस प्रदेश में किसी जमाने में दो मेडिकल कॉलेज थे, आज उस प्रदेश में 10 मेडिकल कॉलेज हैं। प्रदेश की स्वास्थ्य सुविधाएँ सुधरी हैं, इसके लिए मैं बधाई देता हूँ।

*- यहाँ अलग-अलग राज्यों से आकर युवा डॉक्टर अपनी सेवाएं दे रहे हैं। जिस देश में ऐसे काबिल डॉक्टरों की फ़ौज हो, वहां कभी कोई गरीब इलाज के आभाव में नहीं मरेगा। मुझे इस बात का पूरा विश्वास है।

*- जिन गांवों में छोटी जीप नहीं जा पाती थी, आज उन गांवों में नियमित बसें चल रही हैं।

*- आज मैंने जिस ट्रेन को हरी झंडी दिखाई, उसमें ड्राईवर से लेकर संचालक तक सभी महिलाएं थी। आज देश की बेटियां आदिवासी जंगलों में ट्रेन चला रही हैं। देश के लिए यह बहुत गर्र्व की बात है।

*- अगर हर गाँव तक गोबरधन, जनधन और वनधन योजना पहुँचाया जाए तो गाँव वालों का जीवन बदल जायेगा।