किसी इंसान को कनखजूरा काट ले या कान में घुस जाये तो क्या करना चाहिए? एक बार जरुर जान लें

गर्मियों का मौसम शुरू हो चुका है और जैसा की हम सभी जानते हैं इस मौसम में कीडे़ मकौड़े बाहर आते हैं। इसमें सबसे खतरनाक कनखूजरे को माना जाता है। कनखूजरे के बारे में ज्यादा लोगों को जानकारी नहीं होती। इसलिए अगर किसी को कनखूजरा काटता है तो मालूम नहीं होता की क्या करना चाहिए। इसलिए आज हम आपको बताएंगे की कनखजूरा के काटने या कान में घुसने पर क्या करना चाहिए। अमूमन देखा जाता है कि लोगों को जब कनखजूरा काट लेता है तो समझ में नहीं आता है कि क्या करना चाहिए। तो आइये आपको बता देते हैं कि कनखजूरा के काटने या कान में घुसने पर क्या करना चाहिए।

कनखजूरा के काटने या कान में घुसने पर क्या करें?

आपको बता दें कि कनखजूरा सांप की तरह ही जहरीला जानवर माना जाता है। कनखजूरा सांप की तरह ही काटने के बाद शरीर में जहर छोड़ता है। कनखजूरा के काटने पर इंसान को सांस लेने में काफी तकलीफ होती है। सांस में तकलीफ के अलावा शरीर में काफी दर्द भी होता है। लेकिन, आपको जानकर हैरानी होगी की कनखजूरा का काटना जानलेवा नहीं होता है। लेकिन, इस के काटने पर होने वाला दर्द कभी कभी काफी अधिक होता है जो कभी कभी बर्दास्त के बाहर हो जाता है।

लेकिन, अक्सर देखा जाता है कि कनखजूरा काटने के अलावा कान के रास्ते अंदर घुस जाता है। यह बेहद खतरनाक माना जाता है। दरअसल, कनखजूरा अक्सर अंधेरे में रहता है और इसी वजह से वह अक्सर कान में घुस जाता है। इसके अलावा, बरसात के मौसम में भी कनखजूरा बहुत निकलते हैं। कनखजूरे का कानों घुसना काफी दर्दनाक होता है। कनखजूरा इंसान के कान में चिपक जाता है जिसे निकालना काफी मुश्किल होता है। कनखजूरा के काटने पर उसका जहर शरीर में पहुंच जाता है और थकान के साथ साथ सांस लेने में तकलीफ होती है।

कनखजूरे काटने का इलाज और तरीका

आपको बता दें कि कनखजूरा के काटने या कान में घुसने पर क्या करना चाहिए। आज हम आपको बता देते हैं कि कनखजूरे काटने का इलाज और तरीका क्या है। अगर किसी के कान में कनखजूरा घुस जाए तो पानी में सेंधा नमक मिलाकर कान में डालने से वह मर जाता है। सेंधा नमक की वजह से वह मरकर कान से बाहर निकल जाता है। इसके अलावा, अगर कनखजूरा शरीर से चिपक जाए तो उसके मुंह पर चीनी डालने से वह शरीर को छोड़ देता है। इसी तरह अगर किसी को कनखजूरा काट ले तो हल्दी और सेंधा नमक का मिश्रण लेकर इसे गाय के घी में वहां पर लगाये।

ऐसा करने से कनखजूरा का विष खत्म हो जाता है। ये वो तरीके हैं जिनसे कनखजूरा के काटने या कान में घुसने पर इलाज किया जा सकता है। अगर आपके आस पास या घर में किसी को कनखजूरा के काट ले या कान में घुसने जाये तो ये उपाय करके उसे ठीक किया जा सकता है। आपको बता दें की कनखजूरा अगर इंसान को काटे तो यह जानलेवा नहीं होता, लेकिन इसके काटने के बाद अगर सही उपचार नहीं हुआ तो इंसान के लिए यह जानलेवा हो सकता है। लेकिन, अगर यह चूहों को काट ले तो 30 सेकंड में उसकी मौत हो जाती है।