ब्रेकिंग न्यूज़

एक और गैंगरेपः महिला ने सुसाइड नोट में लिखी ऐसी बात की पढ़कर पैरों तले खिसक गई जमीन

लखनऊ – इन दिनों देश में दो रेप केस से बवाल मचा हुआ है। पहला उत्तर प्रदेश की उन्नाव में बीजेपी एक विधायक पर नाबालिग से रेप का आरोप है तो वहीं जम्मु में एक 8 साल की बच्ची के साथ दरिदंगी का दूसरा मामला सामने है। इन दोनों गैंगरेप केस को लेकर पूरे देश में आक्रोश का माहौल है। गौरतलब है कि कठुआ रेप केस में जहां एक मासूम के साथ दरिदंगी की सारी हदें पार कर दी गई तो वहीं विधायक ने खुद को बचाने के लिए पीड़िता के परिवार को धमकाने का सहारा लिया। इसी बीच यूपी के उन्नाव की तरह एक और दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। दरअसल, मुजफ्फरनगर में महिला से गैंगरेप की खबर सामने आई है।

मुजफ्फरनगर में महिला से गैंगरेप की घटना

यह मामला कुछ कुछ उन्नाव के मामले के जैसे ही है। इस मामले में भी पुलिस लापरवाह नज़र आ रही है। पुलिस की लापरवाही की वजह से ही गैंगरेप की पीड़िता ने आत्महत्या कर ली। लेकिन, सुसाइड करने से पहले महिला ने अपने सुसाइड नोट जो लिखा उसे पढ़कर हर कोई हैरान है। मुजफ्फरनगर में महिला से गैंगरेप घटना सामने आई है। रिपोर्ट के मुताबिक, यहां के बुढ़ाना इलाके के रायपुर अटेरना गांव में एक महिला (40) के साथ उसके जेठ के बेटे ने अपने एक साथी के साथ मिलकर रेप किया।

लेकिन, हैरानी की बात तो ये है कि अपने साथ हुई इस घटना की रिपोर्ट लिखवाने गई महिला को फुगाना पुलिस ने उसके पति और बेटे को जेल में बंद कर दिया। साफ है पुलिस इस तरह की घटनाओं को लेकर कितनी संवेदनशील है। महिल ने अपने पति और बेटे को छुड़ाने के लिए पुलिस वालों के सामने कई बार कोशिश की। लेकिन, पुलिस ने उसकी बात नहीं सुनी। अपने साथ हुई इस घटना और पति व बेटे को जेल में देखकर महिला ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

पुलिस पर रिश्वत मांगने का भी आरोप

मुजफ्फरनगर में महिला से गैंगरेप की खबर सामने आने के बाद कई खुलासे हुए हैं जो पुलिस पर सवाल खड़े कर रहे हैं। कहा जा रहा है कि इस मामले में पुलिस ने रिश्वत भी मांगी थी। मामले का संज्ञान लेते हुए एसएसपी अनंत देव तिवारी ने आरोपी दरोगा सतेंद्र को निलंबित कर दिया है। खुद को फंसता देखकर महिला के पति और बेटे को छोड़ दिया गया है। इस मामले में एक महिला सहित 6 अन्य लोगों पर आत्महत्या के लिए उकसाने की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज किया गया है।

बताया जा रहा है कि महिला गुरुवार को दिन में करीब 4 बजे अपने छोटे बेटे के साथ भट्टे से अपने घर लौट रही थी। इसी दौरान उसके जेठ के बेटे प्रदीप और उसके साथी सुभाष ने उसे गन्ने के खेत में खींचकर उसके साथ रेप करने की कोशिश की। हालांकि, वो शोर मचाने के बाद वहां से तुरंत भाग गए। बताया जा रहा है कि महिला के पति का अपने बडे़ भाई के साथ किसी रास्ते को लेकर विवाद चल रहा थी। इसी बात पर दोनों के बीच दुश्मनी थी।

Related Articles

Close