बच्चों में तेजी से फैल रहा है चाइल्डहुड कैंसर, हर साल लाखों बच्चे मरते हैं इससे

कैंसर एक ऐसी बिमारी, जिसकी चपेत में पहले ज्यादा उम्र के लोग ही आते थे, लेकिन आजकल के युग में इसकी चपेत में मासूम बच्चे भी आ रहे हैं। जी हां, एक शोध से यह बात साफ हो चुकी है कि बच्चे ज्यादा कैंसर के शिकार हो रहे हैं। इसके पीछे की वजह तो साफ नहीं हो पाई है, लेकिन बच्चे तेजी से इसके मुंह में जा रहे हैं, ऐसे में बच्चे को इससे बचाने की सख्त जरूरत है। बता दें कि बच्चे में दिखने वाले कुछ लक्षणों को बिल्कुल भी नजरअंदाज न करें, इसके साथ ही छोटे बच्चे का चेकअप समय समय पर कराएंगे तो आपका मासूम इससे बच सकता है। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

बचपन में होने वाले कैंसर को चाइल्डहुड कैंसर कहा जाता है। जी हां, बच्चे को ब्लड कैंसर भी तेजी से हो रहा  है, इसके लिए आपको अभी से अपने बच्चे का पूरी तरह से ध्यान रखना चाहिए, क्योंकि आपकी जरा सी भूल आपके बच्चे को कैंसर के मुंह में धकेल सकता है। बता दें कि कैंसर शऱीर में कोशिकाओं के अनियमित और अनियंत्रित वृद्धि की वजह से होता है। बच्चों में यह जिम्मेदारी के अभाव में होता है।

आपको बता दें कि दुनिया भर में चाइल्डहुड कैंसर की वजह से प्रतिवर्ष 1 लाख 75 हजार बच्चों की मौत हो जाती है, ऐसे में आप यह समझ सकते हैं कि कितनी तेजी से फैल रहा है। ऐसे में भलाई यही है कि आप अपने बच्चे के छोटे मोटे हर मूमेंट पर ध्यान ऱखे ताकि किसी भी गंभीर बिमारी का पता आपको पहले से ही लग जाए। तो चलिए अब हम आपको इसके लक्षण और टाइप बताएंगे ताकि आप इससे सतर्क रह सके और अपने बच्चे को सुरक्षित रख सके।

चाइल्डहुड कैंसर के लक्षण

चाइल्डहुड कैंसर के लक्षण सामान्य होते हैं, ऐसे में अगर आपको अपने बच्चे में इनमें से कोई भी लक्षण दिखे तो जरूर डॉक्टर से संपर्क करें। बता दें कि सुस्ती, कमजोरी, चक्कर आना, पीठ, पैर, जोड़ों में दर्द, सिरदर्द, असामान्य रक्तस्त्राव, मसूढ़ों से खून आना, भूख न लगना, वजन घटना, पेट में सूजन, कब्ज, खांसी, पीठ में दर्द, कब्ज और पुतली के पीछे सफेद रंग का होना कैंसर के लक्षण हो सकते हैं। हालांकि, ये सामान्य लक्षण है, तो ऐसे में आपको घबराने की जरूरत नहीं है, इसके बजाय आपको बढ़िया से चेकअप कराना चाहिए। यहां ध्यान ऱखे कि सबसे पहले खुद हिम्मत से काम ले, क्योंकि जरूरी नहीं है कि अगर ये लक्षण हुआ तो आपका बेबी कैंसर से पीड़ित हो।

चाइल्डहुड कैंसर की देखभाल

आपको बता दें कि बच्चों को बहुत ही ज्यादा देखभाल की जरूरत होती है, ऐसे में अपने बच्चे की ज्यादा से ज्यादा देखभाल करें। बच्चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है, ऐसे मे आपको इस बात का भी विशेष ध्यान रखना चाहिए कि आप अपने बच्चे को एक पल भी अकेला नहीं छोड़े, इससे आपका बच्चा अकेला महसूस करेगा। समय समय पर डॉक्टर से संपर्क लें, ऐसे में अगर आपके बच्चे को सही समय पर ट्रीटमेंट मिल जाएगी, तो आपका बच्चा नार्मल हो सकता है।

चाइल्डहुड कैंसर के प्रकार

जी हां, अगर आपके बच्चे में कैंसर का कोई भी लक्षण दिखे तो सबसे पहले अपने डाक्टर से यह पता करें कि आपके बच्चे को कौन सा कैंसर है, क्योंकि वयस्क से अलग होता है बच्चो में कैंसर। आपको बता दें कि बच्चों में कैंसर ल्यूकीमिया, ब्रेन एंड अदर सेंट्रल नर्वस सिस्टम ट्यूमर, न्यूरोब्लास्टोमा, लिम्फोमा, रैब्डोमायोसरकोमा, रेटिनोब्लास्टोमा, बोन आदि प्रकार के हो सकते हैं। इन सबका ईलाज अलग अलग तरीकों से किया जाता है, इसलिए आपको सबसे पहले कैंसर किस तरह का है, इसका पता करना चाहिए।

Shreya Pandey

Web Journalist