दिलचस्प

इस कपल को “Honeymoon” मनाना पड़ा भारी, एक गलती ने पहुंचाया जेल!

हनीमून ने जेल पहुंचा दिया:  शादी हर लड़के और लड़की की जिंदगी का सबसे ख़ास पल होता है. शादी के बाद घर में लगी रिश्तेदारों की भीड़ से अक्सर कपल परेशान हो जाते हैं और अकेले में वक़्त नहीं बिता पाते. ऐसे में हनीमून पर जाना ही उनके लिए एकमात्र और आखिरी रास्ता बचता है. हर शादीशुदा कपल के लिए हनीमून का पल बेहद ख़ास होता है. ज्यादातर लोग हनीमून मनाने के लिए किसी हिल स्टेशन या फिर ठंडी जगह का चुनाव करते हैं. हनीमून के ये कुछ दिन हर कपल की जिंदगी के सबसे बेहतरीन और ख़ास दिन बन जाते हैं. इन दिनों की याद लगभग हर पति पत्नी के रिश्ते में प्यार को बरकरार रखती है.

अपने हनीमून का समय सबसे खास बनाने के लिए लोग अपनी पसंद की जगह चुनने में भी बहुत समय लगा देते हैं और अपने हनीमून के लिए बेस्‍ट डेस्टिनेशन चुनना चाहते हैं. हर कपल को शादी के बाद एक दुसरे को समझने के लिए कुछ पल साथ बिताना बहुत जरूरी होता है. ऐसे में घर पर वह एक दुसरे को परिवार के सामने समय नही दे पाते और बड़े बजुर्गों से जिझक महसूस करते हैं. इसलिए उनके परिवार वाले उनकी तनावपूर्ण स्तिथि को समझ कर उन्हें हनीमून पर भेज देते हैं. मगर इन ख़ास पलों में अगर पति पत्नी को जेल की हवा खानी पड़े तो सोचिये उन पर क्या बीतेगी? दरअसल, हाल ही में हमारे सामने एक हैरतंगेज़ मामला आया है. जहाँ एक कपल को हनीमून ने जेल पहुंचा दिया.

आखिर क्यूँ मनाया जेल में हनीमून?

दरअसल, ये पूरा मामला दिल्ली के रहने वाले नीरज ठाकुर का है. जिसको हनीमून के लिए जेल की हवा खानी पड़ी. मिली जानकारी के अनुसार नीरज और उनकी पत्नी की एक छोटी सी गलती ने उन्हें पुलिस स्टेशन में रात बिताने को मजबूर कर दिया. आपको ये जानकर हैरानी होगी कि इस नव- विवाहित जोड़े पर चोरी का इल्जाम लगाया गया है. रिपोर्ट के अनुसार दोनों पति पत्नी हनीमून मनाने के लिए इतने उत्सुक थे कि ट्रेन को पकड़ने में हुई भागा-दौड़ी में अपने बैग्स उठाने की जगह किसी अन्य इंसान के बैग उठा कर ले गए. जिसके बाद उस बैग के असली ओनर की नजर अचानक उस बैग पर पड़ गई और उसने बिना कुछ सोचे समझे वहां पुलिस को बुलवा लिया. नव दंपत्ति को ट्रेन से उतारकर जीआरपी थाने ले जाया गया.

मजिस्ट्रेट ने भेजा कपल को जेल

थाने पहुँच कर पुलिस ने दोनों से पूछताछ की और उन्हें एक cctv फुटेज दिखाई. इस फुटेज में नीरज और उसकी पत्नी किसी अन्य यात्री का बैग उठा रहे थे. पूछताछ के दौरान नीरज ने बताया कि वह अपनी पत्नी के साथ हनीमून मनाने के लिए ऊटी जा रहा था. लेकिन, बैग कब बदला और कैसे बदला ये उसको याद नहीं आ रहा. पुलिस ने नीरज और उसकी पत्नी की एक नहीं सुनी और दोनों को जिले के मजिस्ट्रेट के सामने पेश कर दिया. सीसीटीवी फुटेज देख कर मजिस्ट्रेट ने दोनों को चोर ठहरा कर जेल भेजने के आदेश दे दिए.

वहीँ स्टेशन पर मौजूद अन्य लोगों के अनुसार ये दोनों पति पत्नी हनीमून की आड़ में चोरी करने आए थे. फिलहाल इस कपल का सच क्या है ये कोई नहीं जानता. परन्तु अगर सच में ये दोनों हनीमून के लिए जा रहे थे तो इनका ये सफ़र उन्हें मरते दम तक नहीं भूलेगा.

Related Articles

Close