ब्रेकिंग न्यूज़

योगी का ऑपरेशन ‘ठोंक डाल’, रहम की भीख मांग रहे अपराधी का वीडियो वायरल

यूपी में जब से योगी की सरकार बनी है, यूपी में बदमाशों के चेहरे पर पुलिस का ख़ौफ साफ तौर पर दिख रहा है। ताबड़तोड़ नकाउंटर से बदमाशों के दिमाग में मौत का ख़ौफ पैदा होता साफ़ नजर आ रहा है। आलम ये हो गया है कि कोई भी अपराधी जिसपर इनाम षित है, वो बाहर रहना ही नहीं चाहता। वो जेल में रहना खुद के लिए ज्यादा सुरक्षित समझता है। ऐसा ही वीडियो सामने आया है।
जिसमें अपराधी खुद को जेल भेजने के लिए मिन्नतें कर रहा है।

मामला ग्रेटर नॉएडा के बिसरख थाने का है, जहां एक 50 हजार के इनामी बदमाश शेरू भाटी ने खुद आकर अपने आप को पुलिस के हवाले कर दिया। कारण पूछा तो बताया कि एनकाउंटर का डर। ये बदमाश बीजेपी नेता और उसके दो गनर की हत्या के मामले में वांछित चल रहा था। पुलिस ने बदमाश को अपनी हिरासत में लेकर जेल भेज दिया है। वही इस वायरल वीडियो को देखने के बाद एनकाउंटर के डर से ग्राम प्रधान सोहित कसाना वांछित चल रहे अपने भाई अमित कसाना को सरेंडर करने की बात कहते नजर आ रहे है।

‘साहब मुझे मरना नहीं है’

शेरू भाटी सोमवार को कोतवाली में नाटकीय ढंग से पेश हो गया। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उसके पास से एक पिस्टल बरामद की है।  पुलिस का दावा है कि बदमाश ने डर की वजह से आत्मसर्मपण किया है। वीडियो से घिरी  पुलिस ने बदमाश के सरेंडर होने का एक वीडियो वायरल किया है, जिसमें बदमाश कोतवाल के सामने खड़ा होकर अपना परिचय दे रहा है, जबकि पुलिस उसे पहचान तक नहीं सकी। पुलिस पर सवाल उठ रहा है कि बदमाश के कोतवाली में पहुंचने पर उसका वीडियो किसने बनाया। क्या पहले से सबकुछ प्लान तैयार था। पिस्टल लेकर बदमाश थाने पहुंच गया। उसने पहले बाहर खड़े पहरा से कोतवाल के दफ्तर पूछा और फिर अंदर गया, लेकिन अपने ही थाने के वांछित अपराधी को पुलिस पहचान नहीं सकी।

बदमाश शेरू बीते 17 नवम्बर 2017 को बीजेपी नेता शिवकुमार समेत तीन की हत्या के मामले में फरार था। शिवकुमार की हत्या उस वक्त हुई थी जब वो अपनी फॉर्चूनर गाड़ी से तिगड़ी गांव से नोएडा जा रहे थे। तभी बिसरख थाना क्षेत्र में गाडी पर ताबड़तोड़ गोलिया बरसा कर शिवकुमार और उसके दो गनर को मौत की नींद सुला दिया था।  शेरु भाटी पर पुलिस ने 50 हजार का इनाम भी रखा था। बदमाश शेरू भाटी का कहना है, कि हर रोज पुलिस घर पर दस्तक देती थी जिससे हमे डर पैदा हो गया कि पुलिस हमारे साथ कही एनकाउंटर न कर दे।

एनकाउंटर स्पेशलिस्ट हैं नोएडा एसएसपी

दरअसल ये अपराधियों पर नोएडा के नए एसएसपी डॉक्टर अजय पाल शर्मा का खौफ हैं.. क्योंकि अजय पाल एनकाउंटर स्पेशलिस्ट माने जाते हैं और चार्ज लेते ही उन्होने एक लाख के इनामी बदमाश को टपका दिया है। इस घटना के बाद अपराधियों में जबरदस्त दहशत का माहौल हैं।

सोशल मीडिया में वीडियो वायरल देखें वीडियो-

बदमाश के सरेंडर होने का वीडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है। जिसमें बदमाश कोतवाल के सामने खड़ा होकर अपना परिचय दे रहा है, जबकि पुलिस उसे पहचान तक नहीं सकी, लेकिन जब उसने अपना पूरा परिचय दिया तो पुलिस के
होश उड़ गए। उन्होने तत्काल उसको गिरफ्तार कर लिया।

Related Articles

Close