अगर आप भी करते हैं इस तेल का सेवन तो आज से कर दें बंद, स्वास्थ्य के लिए है बहुत हानिकारक

राई के तेल के नुकसान: समय के साथ धीरे-धीरे इंसान की कई आदतों में बदलाव हुआ है। सबसे ज्यादा लोगों की खानपान में बदलाव हुआ है। आज के आधुनिक समय में लोग अपने खान-पान के साथ काफी एक्सीपेरीमेंट भी करते हैं। हर रोज कुछ नया ट्राई करने की लोगों को आदत लग चुकी है। खान-पान में आये इसी बदलाव की वजह से लोग कई तरह की बिमारियों से धिरते जा रहे हैं। आये दिन एक नए रोग के बारे में पता चल रहा है।

जानबूझकर देते हैं बिमारियों को न्योता:

पहले जिन रोगों से केवल बुजुर्ग पीड़ित होते थे, आज वो रोग युवकों को भी होने लगे हैं। इसका सबसे बड़ा कारण युवा पीढ़ी के खान-पान में अचानक से बदलाव है। आजकल की युवा पीढ़ी समय के आभाव में कुछ भी खा लेती है। सबसे ज्यादा युवाओं को स्ट्रीट फ़ूड अपनी तरफ आकर्षित करता है। आजकल फ़ास्ट फ़ूड, जंक फ़ूड और स्ट्रीट फ़ूड के ऊपर ही उनका जीवन चल रहा है। अब ऐसे में गंभीर बिमारियों को वो जानबूझकर न्योता देते हैं। समय के अभाव में वह अपने स्वास्थ्य का भी सही तरह से ख़याल नहीं रख पाते हैं।

राई के तेल का करते हैं सेवन तो हो जाएँ सावधान:

आज की युवा पीढ़ी ज्यादा भागदौड़ और काम की वजह से वह तनाव के शिकार हो जाते हैं और अपनी सेहत का ख्याल नहीं रख पाती है। ऐसे में सबसे ज्यादा जरुरी होता है हेल्दी फ़ूड का सेवन। यही एक चीज है जो आपको निरोगी रखने का काम करती है। इसके साथ ही इस बात का ध्यान रखना भी बहुत जरुरी होता है कि आप जो खा रहे हैं, क्या वह हेल्दी है या नहीं?। आपको बता दें आपके शरीर के लिए ऐसी ही एक हानिकारक चीज है राई का तेल। अगर आप भी सिका सेवन करते हैं तो आपको सावधान होने की जरुरत है।

राई के तेल के सेवन से याददाश्त पर पड़ता है बुरा असर:

आपने अक्सर देखा होगा कि कई परिवारों में अक्सर राई के तेल से ही सभी भोजन बनाए जाते हैं। हालाँकि इसके तेल में बना खाना स्वादिष्ट तो होता है, लेकिन सेहत के लिए नुकसानदायक होता है। इसको लेकर अब कई तरह की शोध सामने आ रही हैं। इस शोध में यह बात सामने आई है कि अगर आप हर रोज दो चम्मच राई के तेल का सेवन करते हैं तो आपकी याददाश्त और सीखने की क्षमता पर बुरा असर पड़ता है। शोध में यह बात भी सामने आई है कि अल्जाइमर से पीड़ित लोगों का इसके सेवन से वजन भी बढ़ता है।

राई के तेल के सेवन से घट जाती है सीखने की क्षमता:

चूहों पर किये गए इस अध्ययन में कहा गया है कि वेजिटेबल आयल के लम्बे समय तक सेवन करने से दिमाग पर बुरा असर होता है। आपको बता दें राई के तेल को स्वास्थ्यवर्धक तेल के रूप में माना जाता है, ऐसे में यह शोध लोगों को सोचने पर मजबूर कर सकती है। जिन चूहों को राई के तेल में पकाए गए भोजन करवाए गए, उनके वजन सामान्य भोजन करने वालों से ज्यादा पाए गए। शोधकर्ताओं का दावा है कि लगातार 6 महीने तक राई के तेल का सेवन करने से काम करने वाले लोगों की याददाश्त पर बुरा असर पड़ता है। इसके साथ ही लोगों की सीखने की क्षमता पर भी बुरा असर पड़ता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!