ब्रेकिंग न्यूज़

सर्जिकल स्ट्राइकः पाकिस्तान में घुसकर मारने में थी RSS की ताकत! जानिए कैसे?

नई दिल्लीः रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने उड़ी हमले के बाद भारतीय सेना द्वारा पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) में सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर बड़ा खुलासा किया है। रक्षामंत्री ने कहा है कि इसके पीछे का कारण आरएसएस की प्रेरणा थी। पर्रिकर ने एक कार्यक्रम के दौरान बोलते हुए कहा कि शायद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की सीख ही इस कार्रवाई की बुनियाद बनी। Surgical strike in Pakistan.

सर्जिकल स्ट्राइक के पीछे आरएसएस की सीख

पार्रिकर ने डिफेंस मिनिस्ट्री और निरमा यूनिवर्सिटी के एक कार्यक्रम ‘नो योर्स आर्मी’ में जनता को संबोधित करते हुए कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक के पीछे कहीं न कहीं राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) की शिक्षा है। रक्षामंत्री ने सर्जिकल स्ट्राइक का श्रेय संघ को दे दिया है। उन्होंने कहा कि शायद इसके मूल में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की सीख थी। गौरतलब है कि मोदी और पर्रिकर दोनों ही आरएसएस से जुड़े रहे हैं।

सर्जिकल स्ट्राइक का श्रेय पहले मोदी को दिया

आपकों बता दें कि इससे पहले मनोहर पर्रिकर ने मुंबई में एक कांफ्रेंस में बोलते हुए पीओके में सफल सर्जिकल स्ट्राइक के लिए बड़ा श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दिया था। उन्होंने कहा था कि पीओके में सफल सर्जिकल स्ट्राइक करने का श्रेय भारतीय सेना और पीएम दोनों को जाता है, लेकिन फैसला लेने और प्लानिंग करने की वजह से ज्यादा श्रेय प्रधानमंत्री को मिलना चाहिए।

संघर्ष विराम का उल्लंघन जारी –

रविवार को पाकिस्तानी सैनिकों की गोलीबारी में एक भारतीय जवान शहीद हो गया। पर्रिकर ने इस घटना पर बोलते हुए कहा कि भारतीय सेना इस तरह के संघर्ष विराम उल्लघंनों मुंहतोड़ जवाब दे रही है। उन्होंने कहा कि पिछले पांच-छह सालों में पाकिस्तान की ओर से सैकड़ों बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया गया है। इसमें सिर्फ अंतर इतना है कि यदि वो संघर्ष विराम तोड़ते हैं तो हमारी ओर से उन्हें करारा जवाब दिया जाता है।

Related Articles

Close