हार के बाद पार्टी हाईकमान के सामने होगी सीएम योगी की पेशी

गोरखपुर और फूलपुर चुनाव हारने के  बाद सीएम योगी की पहली क्लास पार्टी हाईकमान के सामने लगेगी। जी हां, सूत्रों की माने तो बीजेपी  अध्यक्ष अमित शाह ने सीएम योगी को दिल्ली बुलाया है। बता दें कि सीएम योगी शनिवार की शाम तक दिल्ली जाएंगे, जहां वो अमित शाह से मुलाकात करेंगे। उपचुनाव में हुई करारी हार से बीजेपी हाईकमान भी डगमगा गई है, यही वजह है कि बीजेपी अब सतर्क हो गई है। बता दें कि दोनों की मुलाकात में पार्टी की अगली रणनीति बनाई जाएगी, ताकि डगमगा रही एनडीए को वापस खड़ा किया जाए। आइये जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

सपा बसपा के साथ आने के पर यूपी में बीजेपी का ऐसा हाल होगा ये सीएम योगी ने सपने में भी नहीं सोचा होगा। जी हां, सपा और बसपा का गठबंधन सीएम योगी ने राहुल और अखिलेश का गठबंधन समझकर हल्के में ले लिया था, जिसकी वजह से योगी को गोरखपुर गंवाना पड़ा, जोकि बीजेपी के लिए बड़ी ही शर्मनाक बात है। हालांकि, नतीजेंं आने के बाद सीएम योगी ने अपनी हार को स्वीकारते हुए कहा था कि ये हमारे अतिविश्वास की वजह से हुआ है। इसके आगे सीएम योगी ने ये भी कहा था कि मैं जब जब गोरखपुर गया तो कार्यकर्ताओं ने कहा कि हम चुनाव जीत रहे हैं, ऐसे में मुझे लगा ही नहीं कि हम चुनाव हारेंगे भी।

चुनावी नतीजे आने के बाद सीएम योगी ने अपने सारे कार्यक्रम कैंसिल कर दिये हैं। बता दें कि सीएम योगी का पहला निर्धारित कार्यक्रम गौंडा जाना था, लेकिन वहां उन्होंने अपनी जगह डिप्टी सीएम दिनेश को भेज दिया। इसके  अलावा सीएम योगी ने अपने सभी कार्यक्रमो को रद्द कर दिया। बताते चलें कि बीजेपी इस हार की समीक्षा बड़े ही जोरों से कर रही है, क्योंकि वो आम चुनाव में ऐसा प्रदर्शन कतई नहीं चाहती है। इसी सिलसिले में अमित शाह ने सीएम योगी को बुलाया है।

अमित शाह लगाएंगे सीएम योगी की क्लास

बीजेपी अपनी इस हार को पचा नहीं पा रही है। यही वजह है कि सीएम योगी आदित्यनाथ को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने दिल्ली बुलाया है। इस दौरान सूत्रों की माने तो अमित शाह यूपी में बीजेपी की हार पर योगी से समीक्षा लेंगे, ताकि वो आगे की रणनीति तय कर सकें। इसके अलावा सूबे का मिजाज समझते हुए आगामी चुनाव की रणनीति बनाई जाएगी। बता दें कि शनिवार की शाम पांच बजे दोनों के बीच मुलाकात होने की संभावनाएं जताई जा रही  हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.