मुख्य समाचार

केरल के कन्नूर जिले में फिर बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या को दिया गया अंजाम .

आज कल बीजेपी के दुश्मनो की तदार वैसे ही इतनी बढ़ चुकी है कि उनके लिए हर कदम पर खतरा मंडराता रहता है ! ऐसे में बीजेपी के एक कार्यकर्ता रेमित की धारदार हथियार मार कर हत्या (Bjp’s worker murdered)कर दी गयी है ! ये घटना बुधवार को ही केरल के एक ज़िले कन्नूर में हुई है ! आपको बता दे कि भाजपा इस हत्या को बदले की साज़िश मान रहा है क्योंकि इससे पहले सोमवार को भी जिले में सत्तारूढ़ मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी यानि (सीपीएम) के एक कार्यकर्ता की हत्या की गई थी.! इसलिए बीजेपी को लगता है कि इस हत्या में सीपीएम का बहुत बड़ा हाथ है ! तभी तो इसकी कारवाई में भी कोई कसर नहीं छोड़ी जा रही !

सीपीएम को बीजेपी कार्यकर्ताओ पर था संदेह (BJP’s worker Murdered) ..

दरअसल इससे पहले सीपीएम के एक कार्यकर्ता और पार्टी की स्थानीय कमेटी के नेता मोहनन के. जो ५२ वर्षीय थे, उन की कुछ चार पांच लोगों ने इसी तरह धारदार हथियार से हत्या कर दी थी ! उस समय वो अपनी दुकान पर ही बैठे हुए थे ! पर सीपीएम ने इसका आरोप बीजेपी कार्यकर्ताओ पर लगाया था कि ये हत्या उन्होंने ही करवाई है ! हालांकि जांच से ये पता चला था कि हमलावर ने नकाब पहना हुआ था जिस कारण उसकी पहचान नहीं हो पायी ! तबदीश करने पर ऐसा लग रहा था कि जैसे ये हमला किसी राजनीतिक उद्देश्य से किया गया हो इसलिए सीपीएम को संदेह होना लाज़िमा था क्योंकि बीजेपी ने तब हड़ताल का आह्वान भी किया था ! इसलिए पहला संदेह उन्ही पर गया !

बीजेपी ने किया था  दावा ..

गौरतलब है कि इससे पहले भी बीजेपी ने दावा किया था, कि उनके एक कार्यकर्ता पर कथित तौर पर सीपीएम सदस्यों ने हमला किया था ! आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक मई में पी. विजयन की लेफ्ट सरकार के सत्ता में आने के बाद से अब तक कन्नूर जिले में 300 से ज़्यादा राजनीतिक हमलों की रिपोर्ट दर्ज हो चुकी हैं ! विपक्ष ने राज्य में सरकार पर इस तरह की हिंसक घटनाओं पर कोई कारवाई न करने का आरोप लगाया है ! अब ये कहा नहीं जा सकता कि सरकार इस तरह की घटनाओ को लेकर कब कारवाई करेगी, पर ये तो तय है कि इस तरह की जंग विपक्षी दलो में कभी खत्म होने वाली नहीं है !

Related Articles

Close