भारतीय समाज में हर चीज के पीछे एक विशेष कारण होता है, जिसको लेकर कुछ लोग बहुत सजग होते हैं, तो कुछ लोग नजरअंदाज कर देते हैं। वैसे भी आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में किसी के पास इतना वक्त नहीं होता है कि वो हर चीजे के पीछे कारण तलाश करने की कोशिश करें, लेकिन आपके नजरअंदाज करने की आदत ही आपको ले-डूबती है, जिसकी वजह से आपको सावधान रहने की सख्त जरूरत है। बता दें कि शास्त्रों के अनुसार हर दिन का विशेष महत्व होता है, ऐसे में रविवार के दिन का भी अपना ही एक अलग महत्व होता है। ऐसे में रविवार की शाम को गलती से भी नहीं करने चाहिए कुछ काम।

रविवार के दिन को सूर्यदेव का दिन माना जाता है, ऐसे में इस दिन आपको बहुत ही संभल कर रहना चाहिए, क्योंकि सूर्य के प्रकोप से ज्यादा तेज इस दुनिया में दूसरा कुछ नहीं है। बताते चलें कि सूर्यदेव की कृपा जिस शख्स से पर होती है, उसका कोई कुछ भी नहीं बिगाड़ सकता है, ऐसे में अगर आपको भी सूर्यदेव की कृपा चाहिए तो उन्हें नाराज न करें, बल्कि रविवार की शाम को ये काम गलती से भी न करें।

शास्त्रों के मुताबिक, सूर्यदेव नाराज होते हैं, तो बाकि सभी देवी-देवता भी आपसे मुंह मोड़ लेते हैं, तो ऐसे में आपको रविवार की शाम को बिल्कुल भी नहीं करने चाहिए ये काम। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर कौन से काम को नहीं करने चाहिए तो चलिए अब आपको उन्हीं कामों से रूबरू कराने जा रहे हैं, जिसे रविवार की शाम को गलती से भी नहीं करना चाहिए।

रविवार की शाम को भूलकर भी न करें ये काम

1.रविवार की शाम को गलती से भी तुलसी पर जल नहीं चढ़ाने के साथ ही उसके पत्तों को भी नहीं तोड़े।

2.इस दिन शाम को झाडू़ नहीं लगाना चाहिए, वरना आपके घर में दरिद्रता का वास होगा।

3. शाम को बच्चोंं का पढ़ना नहीं चाहिए, वरना सरस्वती मां नाराज हो जाती है।

4.बता दें कि रविवार की शाम को किसी की भी बुराई करने से बचना चाहिए, वरना सूर्य का प्रकोप आप पर बरसेगा।

5.माना जाता है कि शाम के समय लक्ष्मी माता का वास होता है, ऐसे  में अगर आप शाम को गुस्सा करेंगे तो माता नाखुश हो जाएगी, जिसकी वजह से आपके घर में दुख और दरिद्रता ही नजर आएगी।

6. शाम के समय तुलसी के पौधे के सामने दीपक जरूर जलाएं, क्योंकि तुलसी की पूजा करने से घर में सुख शांति बनी रहती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.