काटा गया 60 साल पुराना पेड़, चली कुल्हाड़ी तो अंदर दिखा कुछ ऐसा की सब की चीख निकल गयी, देखें

ममी के बारे में हम सब लोग बहुत सी बाते सुनते आ रहे हैं और हममे से कईयों ने ममी को देखा भी होगा.. वैसे तो हर ममी अपने आप में एक अजूबा है लेकिन हाल ही जार्जिया के जंगलो में एक ऐसा ममी देखने को मिला जो कि आजकल खबरों की सुर्खिया बन गया हैं.. असल में ये ममी ज़मीन नही बल्कि पेड़ के अंदर पाया गया और वो भी वहां स्थित 60 साल पुराने पेड़ को काटने के दौरान।

खतरनाक जानवरों और नितांत सुनसान स्थान वाले जंगल का नाम सुनते ही वैसे भी लोगों की रूह कांप उठती है.. घने जंगलो में अक्सर खौफनाक नजारे देखने को मिलते हैं और ऐसा ही रूह कंपा देने वाला दृष्य जॉर्जिया के जंगलों में नजर आया जब वहां लकड़ी काटने वालों को ऐसी चीज मिली जिसे देख उनकी आंखें फटी रह गई थीं।दरअसल जार्जिया के जंगलों में कुछ साल पहले जब जंगलों में पुराने पेड़ काटे जा रहे थे तभी एक पेड़ के तने के बीच एक कुत्ते का अजीब सा ममी दिखा । ऐसे में जब इसे बाहर निकाल कर परिक्षण किया गया तो पता चला कि ये पेड़ के तने के अंदर लगभग 20 सालों से है और पेड़ के भीतर पड़ा कुत्ते का म़ृत शरीर पेड़ की तरह ही ठोस और दिखने में डरावना रूप ले लिया था ।

हालांकि पेड़ के अंदर कुत्ते का कंकाल देख वैज्ञानिक भी हैरान थे कि आखिर कुत्ता पेड़ के अंदर आया कैसे। ऐसे में जब हाल में इसकी तस्वीर को सोशल मीडिया पर वायरल हुई तो उसे देख लोग इसे जादू टोना से भी जोड़ रह हैं । हालांकि, वहीं विशेषज्ञो ने इस रहस्य को सुलझाते हुए इस अजीब ममी के बार में कुछ व्यवहारिक बाते सामने रखी है ।

विशेषज्ञो का कहना है कि ऐसा संभव है कि ये कुत्ता किसी छोटे जानवर के शिकार करने के चक्कर में यहां  पहुंचा हो और जमीन खोदते हुए खोखले हो चुके इस पेड़ के तने के अंदर पहुंच गया होगा, ऐसे में जब वो ऊपर की ओर लगभग 28 फीट तक चढ़ने के बाद वापस निकलने के लिए ये मुड़ा हो तो निकल नही पाया हो। ऐसे में पेड़ के अंदर ही भूख-प्यास से इसकी मौत हो गई होगी।

ऐसे में सोचने वाली बात ये हैं कि आखिर इतने दशकों के बाद भी इस कुत्ते की बॉडी खराब होने की जगह ममी में कैस बदल गई थी और वो भी ठीक उसी आकार मे थी जैसा कि ये कुत्ता रहा होगा। ऐसे में विशेषज्ञो ने बताया कि चूंकि तने में हवा का फ्लो ऊपर की ओर रहा होगा जिससे कि दूसरे मांसाहारी जीव और बैक्टीरिया इस तक नहीं पहुंच पाए।साथ ही उस पेड़ में मौजूद कुछ रसयानों की वजह से कुत्ते की बॉडी सड़ने की जगह ठोस कंकाल यानी ममी के रूप में तब्दील हो गई। ऐसे में जार्जिया में अब इस पेड़ और कंकाल को को म्यूजियम में डिस्प्ले के लिए रखा गया है।ऐसे में इस बेहद डरावने ममी को देखने के लिए उस म्यूजियम लाखों लोगों की भीड़ जुट रही है।