इस बेटी को जन्म से पहले ही मार देना चाहता था बाप, आज इस तरह से बनाई बॉलीवुड में अपनी पहचान

मुंबई: हमारे समाज में भले ही महिलाओं को देवी का दर्जा दिया गया है। लेकिन हमेशा से ही इन्ही महिलाओं के साथ ज्यादतियां की जाती रही हैं। भारत में काफी समय तक केवल पुरुषों को ही महत्व दिया जाता रहा है। यही वजह है कि यहाँ कन्याओं को भ्रूण में ही मार दिया जाता था। कुछ लोगों की इसी गन्दी हरकत की वजह से धीरे-धीरे लड़कियों की संख्या कम होने लगी। आज भी लड़कों की अपेक्षा लड़कियों की आबादी कम है।

किसी को नहीं पता था आज बन जायेंगे इतने बड़े स्टार:

वैसे तो बॉलीवुड में कई लोग ऐसे हैं, जिन्हें बनी-बनायी जगह मिल गयी। लेकिन कई लोगों को उस जगह तक पहुँचने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ी है। कई लोगों ने बॉलीवुड में अपनी पहचान बनाने के लिए अपने जीवन का सबसे महत्वपूर्ण पल लगा दिया। हालाँकि आज उसका फल उन्हें मिल रहा है और आज उन्हें पूरी दुनिया जानती है। शाहरुख़ और अक्षय कुमार उन्ही लोगों में से हैं, जिन्होंने हीरो बनने का सपना लेकर दिल्ली से मुंबई का सफ़र तय किया। शुरुआत में उन्हें खुद नहीं पता था कि एक दिन वह इतने बड़े स्टार बन जायेंगे।

अय्यारी में नजर आएँगी पूजा चोपड़ा:

आज दोनों की क्या छवि है, यह किसी को बताने की जरुरत नहीं है। वहीँ कुछ अभिनेता या अभिनेत्री ऐसे भी हैं, जिन्हें बॉलीवुड में अपने लिए जगह बनाने के लिए बहुत ज्यादा संघर्ष नहीं करना पड़ा। लेकिन आज हम आपको एक ऐसी अभिनेत्री के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे इस दुनिया में उसका खुद का बाप भी नहीं आने देना चाहता था। इसके बाद भी यह लड़की आई और अपने लिए एक जगह बनायी। आज हम आपको बताने जा रहे हैं आने वाली फिल्म अय्यारी में नजर आने वाली पूजा चोपड़ा के बारे में।

माँ को निकाल दिया घर से:

पूजा चोपड़ा भो देश की उन हजारों लड़कियों में से एक हैं, जिन्हें उनके माँ-बाप इस दुनिया में नहीं लाना चाहते हैं। एक इंटरव्यू के दौरान पूजा ने अपने जीवन की कडवी सच्चाई को सबके सामने रखा। पूजा ने अपने बारे में कुछ हिला देने वाले सच बताये हैं। पूजा ने बताया कि जब वह अपनी माँ की कोख में थी, तभी उनके पिता ने कह दिया था कि वह बेटी नहीं चाहते हैं। केवल यही नहीं जब पूजा पैदा हुई तो उन्हें देखने के लिए उनके पिता अस्पताल भी नहीं गए थे। जब वह मात्र 20 दिन की थी, तभी उनके पिता ने उनकी माँ को भी घर से बाहर निकाल दिया था।

जो भी हैं आज माँ की वजह से:

पूजा ने बताया कि उनके पिता ने उनके माँ के सामने यह शर्त रखी थी कि या तो वह पूजा को छोड़ दें या फिर घर छोड़कर चली जाये। पूजा ने बताया कि उस समय उनकी बड़ी बहन की उम्र केवल 7 साल थी। माँ अपनी दोनों बेटियों को कोलकाता से लेकर मायके मुंबई आ गयी। माँ ने उनकी और बड़ी बहन की परवरिश बड़ी मुश्किलों के बाद की। पूजा ने अपनी माँ के बारे में कहा कि वह एक असली फाइटर हैं। उन्होंने लड़कियों को कभी कम नहीं समझने के बारे में भी बताया। पूजा ने कहा कि वह आज जो भी हैं अपनी माँ की वजह से ही हैं।