राफेल डील पर राहुल का बीजेपी पर वार ‘मोदी की चुप्पी, घपले की तरफ इशारा’

देश: राफेल विमान सौदे को लेकर जहां एक तरफ सत्ताधारी पार्टी बीजेपी अपनी पीठ थपथपाती फिर रही है, तो वहीं कांग्रेस सरकार को घेरती हुई नजर आ रही है। बता दें कि राफेल डील को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने तो पीएम मोदी की चुप्पी को लेकर बड़े सवाल खड़े कर दिये। आइये जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में खास क्या है?

राफेल विमान डील को लेकर कांग्रेस ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। जी हां, कांग्रेस अध्यक्ष से लेकर तमाम बड़े नेता इस मुद्दे पर सरकार को घेरते हुए नजर आ रही है। बता दें कि राफेल डील पर बीजेपी ने अपनी सरकार की जमकर तारीफ की थी, लेकिन अब राहुल गांधी पीएम मोदी पर सीधे सीधे सवाल खड़े कर रहे हैं, क्योंकि इस डील के लिए पीएम मोदी खुद गये थे।

आपको बता दें कि पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि मोदी जी खुद ये समझौता करने के लिए पेरिस गये थे, फिर भी पीएम मोदी इस मुद्दे पर जनता को जवाब क्यों नहीं दे रहे है? राहुल ने आगे कहा कि पीएम मोदी देश को क्यों नहीं बता रहे हैं कि आखिर ये डील कितने में हुई है, ऐसे में ये किसी घपले की तरफ इशारा कर रहा है। राहुल ने मोदी पर निशाना साधते हुए आगे कहा कि पेरिस जाकर राफेल समझौते में बदलाव किया, लेकिन देश को नहीं बताया जा रहा है कि विमान में कितने में खरीदा, मतलब साफ है कि घोटाला हुआ है।

जहां एक तरफ राहुल गांधी पीएम मोदी पर घोटाले का आरोप लगा रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने सरकार से पूछते हुए कहा कि आखिर सरकार ने 126 की बजाय 36 राफेल विमाल खरीदने का क्यों फैसला लिया? सरकार को इस मुद्दे पर जवाब देने का दवाब बनाते हुए गुलाम ने कहा कि सरकार के इसी फैसले से ये साफ हो जाता है कि आखिर सरकार की मंशा क्या है? कांग्रेस ने सरकार से पूछते हुए कहा कि राफेल विमान की कीमत क्या है, कांग्रेस राज में तो हर जहाज की कीमत करीब 526 करोड़ थी, लेकिन मोदी सरकार ने इसे करीब 1517 करोड़ रुपये में खरीदा है, ऐसे में सरकार बताए कि आखिर सच क्या है?

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.