प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने की मोस्ट वांटेड आतंकी दाऊद इब्रहिम को पकड़ने की अपनी रणनीति तैयार!

नरेन्द्र मोदी लगता है हाथ धोकर आतंकियों का सफाया करने का फैसला कर लिया है। चाहे वह पाकिस्तान का आतंकी हो या भारत का आतंकी जो पाकिस्तान में छुपा हुआ हो। भारत पर आतंकी हमले के बाद मोदी रुकने का नाम ही नहीं ले रहे हैं, लगता है सारे आतंकियों का सफाया करने के बाद ही चैन की साँस लेंगे। इसी के तहत मोदी सरकार ने अपनी पूरी रणनीति तैयार कर ली है कि कैसे भारत के मोस्ट वांटेड आतंकी दाऊद इब्राहीम (Dawood ibrahim) को को पकड़ा जाये।

दाऊद (Dawood ibrahim) अपने कराँची वाले घर में ही बंद होकर रह गया है

भारत सरकार को यह उम्मीद है कि इस नई रणनीति के तहत दबाव बनाकर दाऊद इब्राहीम (Dawood ibrahim) को पकड़ने में कामयाबी मिल सकती है। अगर सूत्रों की माने तो दाऊद इब्राहीम के सभी काले धंधों पर कड़ाई से नज़र रखने के लिए मोदी ने 50 से अधिक ख़ुफ़िया अधिकारियों को तैनात किया है। नियुक्त की गयी 50 लोगों की टीम दाऊद के सरे धंधों पर पैनी नज़र जमाये हुए है। सूत्रों का कहना है कि इसी वजह से दाऊद अपने कराँची वाले घर में ही बंद होकर रह गया है।

सूत्रों के मुताबिक यह बात भी पता चली है कि नियुक्त की इस नई टीम में खुफिया विभाग के अफसरों के साथ रॉ, आयकर विभाग, प्रवर्तन निदेशालय और सीबीआई के अधिकारी भी साथ मिलकर काम कर रहे हैं। नियुक्त की गई टीम का असर हुआ है। सूत्रों के मुताबिक दाऊद इब्राहिम अपना मोबाइल फोन भी प्रयोग नहीं कर रहा है। इस समय उसके संदेश वाहक के रूप में उसकी बीवी महज़बीन शेख काम कर रही है, और सरे जरुरी सन्देश वही दाऊद तक पहुँचा रही है।

ज्ञात हो कि दाऊद भारत से अपने आतंकी कारनामों को अंजाम देने के बाद पाकिस्तान भाग गया और तब से वह वही रहता है। लोग तो यह भी कहते हैं कि दाऊद पाकिस्तान का दामाद है। दाऊद इब्राहिम इस समय अपने पुरे परिवार के साथ पाकिस्तान के कराँची शहर में रहता है। दाऊद को बहुत ज्यादा डर है, इसलिए वह अपनी सुरक्षा को लेकर बहुत सजग रहता है। सूत्रों ने यह भी बताया है कि दाऊद ने दुबई से अपने लिए कई बुलेट प्रूफ गाड़ियाँ भी मंगाई है। दाऊद और उसका पूरा परिवार इन्हीं गाड़ियों से कही बाहर आता- जाता है। इसी बात को ध्यान में रखकर भारत सरकार ने उसे पकड़ने के लिए नई रणनीति बनाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.