एक मिनट में यह चायवाला बन गया करोड़पति, लेकिन पैसे बन गए उसकी जान के दुश्मन

जयपुर: अक्सर आपने सुना होगा कि जिसकी किस्मत अच्छी होती है, उसके ऊपर पैसों की बारिश होती है। हालाँकि इस तरह की बातें कभी-कभी सच भी हो जाती हैं। लेकिन जब इस तरह की बातें सच होती हैं तो अपने साथ कई मुसीबतें भी लाती हैं। आपने लोगों को जुए के माध्यम से एक पल में अमीर होते हुए तो देखा ही होगा। जुआ एक ऐसी चीज है जो आपको धनवान और कंगाल दोनों एक ही साथ बना सकती है। यही वजह है कि जुआ खेलना बुरा माना गया है। इसे गैरकानूनी भी माना गया है।

लेकिन आज हम जुए के बारे में बात नहीं कर रहे हैं। आज हम आपको एक ऐसी घटना के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे जानने के बाद आपको अपने कानों पर यकीन ही नहीं होगा। आपने ऐसा कहानियों में ही सुना होगा कि कोई चायवाला अचानक से धनवान हो जाता है और अपना जीवन ख़ुशी-ख़ुशी व्यतीत करता है। लेकिन जनाब यह कहानी नहीं असली जीवन है, और यहाँ सबकुछ ख़ुशी-ख़ुशी नहीं होता है। कई बार आपका अचानक से धनवान बनना आपके लिए मुसीबत ला सकता है।

दरअसल आज हम आपको एक चायवाले के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसके लिए करोड़पति बनना उसकी जान का दुश्मन बन गया। हुआ यह कि जयपुर में एक चाय की दुकान पर काम करने वाले राजकुमार ने यह कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि वह एक दिन करोड़पति बन जायेगा। लेकिन यह पैसे उसके लिए इस कदर मुसीबत में ला सकते हैं, इसके बारे में तो उसे ख़याल भी नहीं आया होगा। यह घटना नोटबंदी के समय की है। राजकुमार अपने बैंक ऑफ़ बडौदा के खाते में 48 हज़ार रूपये जमा कराने गया था।

बैंक कर्मचारी ने गलती से उसके खाते में 48 हजार की जगह 4 करोड़ 80 लाख रूपये जमा कर दिए। उस समय बैंक ने इसे अपनी गलती मानते हुए पैसे खाते से निकाल लिए थे। सबकुछ ठीक चल रहा था कि अचानक 14 महीने बाद आयकर विभाग ने राजकुमार को नोटिस भेज दी और पेश होने के लिए कहा। राजकुमार वहां गया और जब सारी सच्चाई बतायी तो आयकर विभाग भी सुनकर हैरान हो गया। राजकुमार ने अधिकारीयों को बताया कि वह उद्योग भवन के पास एक चाय की दुकान पर काम करता है और उसे हर महीने 6 हजार रूपये मिलते हैं।

वह 18 नवम्बर 2016 को 48 हजार रूपये बैंक ऑफ़ बडौदा में जमा करवाने गया था। लेकिन तकनिकी गलती की वजह से उसके खाते में 4.8 करोड़ रूपये जमा हो गए थे। बैंक ने गलत एंट्री बताते हुए पैसे वापस निकाल लिए थे। राजकुमार की सच्चाई जानने के बाद भी आयकर विभाग के अधिकारी उससे तीन दिनों तक लगातार पूछताछ करते रहे। अबतक राजकुमार को चार बार नोटिस भी जारी किया जा चूका है। राजकुमार ने बताया कि वह एक गरीब आदमी है और चाय की दूकान पर कम करके मुश्किल से अपने घर का गुजारा करता है। इतनी बड़ी रकम उसकी नहीं है और आयकर विभाग उसे बार-बार आयकर रिटर्न भरने के लिए कह रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.