कासगंज हिंसा पर योगी की चुप्पी पर जमकर बरसें अखिलेश, कहा ‘योगीराज में कोई सुरक्षित नहीं’

उत्तर प्रदेश: कासगंज में बीते तीन दिनों से हिंसा जारी है, ऐसे में सीएम योगी की चुप्पी पर विपक्ष हमलावर हो रहा है। 26 जनवरी से शुरू हुई हिंसा थमने का नाम ही नहीं ले रही है, ऐसे में योगी सरकार ने कानून को कड़ी कार्रवाई करने का आदेश दिया है, लेकिन खुद इस मामलें में चुप हैं, जिसकी वजह से अखिलेश यादव उनपर जमकर बरसते नजर आएं। आइये जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में खास क्या है?

देश का सबसे बड़ा राज्य यूपी इन दिनों आग में सुलग रहा है। जी हां, गणतंत्र दिवस के मौके पर एक युवक की मौत की वजह से फूटा ज्वार अभी तक थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस हिंसा में उपद्रवियों ने दुकान, बसे सबको आग में तब्दील कर दिया है, हालांकि कर्फ्यू लगा दिया है, लेकिन इसके बावजूद हिंसा का रूख थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। उपद्रवियोंं का भयानक तांडव यूपी के कासगंज में जारी है, पुलिस प्रशासन भरसक कोशिश करती हुई नजर आ रही है, लेकिन मामला थोड़ा शांत होने के बाद फिर से उग्र रूप ले लेता है।

बता दें कि 26 जनवरी को जब पूरी दुनिया भारत की आन, बान और शान के नमूने देख रही थी. उसी समय यूपी के कासगंज में हिंसा फैल गई, जिसमें एक युवक की मौत ने आग में घी डालने का काम कर दिया। युवक की मौत के बाद से ही इलाके का माहौल खराब हो गया है, बीच में खबर आई थी पुलिस ने मामलें को शांत कर दिया है, लेकिन उसके बाद एक बार फिर से हिंसा ने उग्र रूप ले लिया है। इस बीच पुलिस ने कड़ी कार्रवाई करते हुए 49 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है, पूरे इलाके में चप्पे चप्पे पर पुलिस बल तैनात होने के बावजूद उपद्रवियों के हौसले बुलंद हैं।

कासगंज में फैली हिंसा के बीच यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने बीजेपी की सरकार पर जमकर निशाना साधते हुए अपील भी की है। जी हां, अखिलेश ने योगी से अपील की है कि वो जल्द से जल्द मामलें को शांत कराके प्रदेश में अमन चैन बनाए। बता दें कि सपा अध्यक्ष ने आगे कहा कि यूपी की कानून व्यवस्था पहले से भी खराब होती जा रही है, प्रदेश को हिंदू मुस्लिम में बांटा जा रहा है, जो किसी भी नजरिये से उचित नहीं है। इसके अलावा अखिलेश ने योगी की चुप्पी पर कहा कि मुख्यमंत्री मामलें में अभी तक चुप्पी साधे हुए हैं, जोकि ठीक नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.