सूर्यास्त के बाद इन 4 चीजों का कभी नहीं करें लेन-देन, वरना हो सकते हैं कंगाल

इंसान की ज़रूरतें कभी खत्म नहीं हो सकती. उन्हें हर वक़्त किसी न किसी चीज़ की कमी लगी ही रहती है. वह पूरी तरह से संतुष्ट कभी नहीं हो सकता. जैसे-जैसे मानव की इच्छा पूरी होती है उसका लालच भी बढ़ता जाता है. भारत देश विभिन्न धर्मों का देश है. हमारे भारत देश को बाकी देश संस्कार और परंपराओं वाला देश मानते हैं. भारत देश दुनियाभर में इसलिए मशहूर है क्योंकि यहां के लोग हमेशा एक-दूसरे की मदद करने के लिए आगे रहते हैं. वह हमेशा एक-दूसरे के सुख-दुख में शामिल होते हैं. उन्हें दूसरों की खुशी में ही अपनी खुशी नज़र आती है. चायपत्ती या चीनी खत्म हो जाने पर पड़ोसियों से मांगने मे हमें शर्म नहीं आती क्योंकि यहीं छोटी-छोटी चीज़ें बताती हैं कि हम दूसरों को पराया नहीं समझते.

अक्सर आपने देखा होगा कि जब लोग किसी को अपना मानते हैं तो वह उनके साथ अपनी चीज़ें शेयर करने से नहीं कतराते. लेन-देन का ये सिलसिला आपका अपने पड़ोसियों के साथ भी चलता होगा. लेकिन शायद ही आपको मालूम होगा कि कुछ चीजों को सूर्यास्त के बाद कभी किसी के साथ नहीं बांटना चाहिए. ये चीजें बांटने से आप पर बुरा असर पड़ सकता है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कुछ चीजों का सूर्यास्त के बाद कभी लेन-देन नहीं करना चाहिए. ऐसा करना आपको मुश्किलों में डाल सकता है. तो आईये इस पोस्ट में जानते हैं कि कौन सी हैं वो चीज़ें जिसका लेन-देन सूर्यास्त के बाद करना आपको भारी पड़ सकता है.

धन               

  

धन-दौलत इंसान के लिए बहुत मायने रखता है. पैसे के बिना इस दुनिया में निर्वाह करना बहुत मुश्किल है. दुनिया में वहीं लोग कामयाब माने जाते हैं जिनके पास पैसा होता है. धन की देवी मां लक्ष्मी होती है और सच्चे मन से पूजा करने पर वह धन की कृपा बरसाती हैं. लेकिन हिंदू धर्म की मानें तो सूर्यास्त के बाद धन का लेन-देन करना अशुभ होता है. कहते हैं कि इस समय धन का लेन-देन करना मतलब मां लक्ष्मी को अपमानित करना है. ऐसा करने से मां लक्ष्मी कभी घर में प्रवेश नहीं करतीं और आर्थिक तंगी लगी रहती है.

झाड़ू

घर की साफ-सफाई के लिए झाड़ू इंसान की निजी ज़रुरत है. झाड़ू साफ-सफाई के काम तो आता ही है साथ ही इसे मां लक्ष्मी का भी प्रतीक माना जाता है. पुराने समय के बुजुर्गों की मानें तो झाडू को खड़ा कर के रखना अशुभ होता है. याद रखिये की सूर्यास्त के समय झाड़ू किसी को देना या लेना नहीं चाहिए. यह अशुभ होता है और ऐसा करने से घर में धन की बरकत नहीं होती.

दूध

मानवीय शरीर पौष्टिक तत्वों के कारण स्वस्थ रहता है. शरीर में इसकी पूर्ती के लिए दूध को सबसे उत्तम माना गया है. इसके अलावा दूध को शुक्र ग्रह का प्रतीक भी मानते हैं और कहते हैं कि सूर्यास्त के बाद किसी को दूध देने से मानसिक चिंताएं बढ़ती हैं. इसलिए शाम के समय किसी के साथ दूध बांटने से बचना चाहिए.

हल्दी

हल्दी का उपयोग सब्जी का स्वाद और रंग निखारने के लिए किया जाता है. लगभग हर शुभ कार्य में हल्दी का प्रयोग होता है. हिंदू धर्म में हल्दी का संबंध सीधा गुरु ग्रह से बताया गया है. गुरु ग्रह भाग्य का सूचक है इसलिए सूर्यास्त के समय हल्दी का लेन-देन आपके दुर्भाग्य का कारण बन सकता है. इसलिए ऐसा करने से बचें.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.