BREAKING NEWS : अमेरिका ने पाकिस्तान पर फिर किया बड़ा हमला, कई आतंकियों को किया ढेर

नई दिल्ली – अमेरिका ने आखिरकार पाकिस्तान के खिलाफ बड़ा कदम उठाते हुए बुधवार को पाकिस्तान-अफगानिस्तान बॉर्डर पर आतंकी ठिकानों पर ड्रोन हमला कर ही दिया। गौरतलब है को अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप को महीनों से लगातार पाकिस्तान में छिपे आतंकियों पर कार्यवाही करने के लिए कह रहे थे। जबकि पाकिस्तान इससे अमेरिका की मात्र धमकी मान रहा था। ड्रोन हमले में हक्कानी नेटवर्क के टॉप कमांडर एहसान खावेरी समेत तीन आतंकी मारे गए हैं। न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के मुताबिक अमेरिकी ड्रोन से दो मिसाइल दागी गई हैं। ये हमला हंगू जिले के पास किया गया। Us drone strike in fata area of Pakistan.

अमेरिका द्वारा पाकिस्तान के खैबर पख्तुनख्वा प्रांत के हांगु जिले में किए गए इस ड्रोन हमले में हक्कानी नेटवर्क के कमांडर सहित तीन आतंकियों की मौत हो गई। इस खबर की पुष्टी करते हुआ पाकिस्तान के ‘डॉन न्यूज’ की ओर से कहा गया है कि, इस हमले में हक्कानी नेटवर्क कमांडर एहसान उर्फ खवैरी और उसके दो सहयोगी कथित तौर पर मारे गए हैं। चैनल की रिपोर्ट में कहा गया है कि अमेरिका द्वारा किये गए इस ड्रोन हमले में अफगान शरणार्थियों से संबंधित एक घर को निशाना बनाया गया था।

आपको बता दें कि अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने हाल ही में पाकिस्तान को अपने यहां स्थित आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कहा था। इस साल की शुरुआत से ही ट्रंप पाकिस्तान में जारी आतंकी गतिविधियों को लेकर सख्त नजर आ रहे है। इसी क्रम में ट्रंप ने पाकिस्तान को लताड़ लगाते हुए अमेरिका से मिलने वाली मदद भी रोक दी थी।

अमेरिका की ओऱ से की गई इस कार्रवाई को ट्रंप का पाकिस्तान को सख्त संदेश माना जा रहा है। इससे पहले अमेरिका ने पाकिस्तान से अफगानिस्तान में आतंकी गतिविधियां करके पाकिस्तान में छुपने वाले तालिबान आतंकियों को गिरफ्तार करने के लिए कहा था, जिसकी पाकिस्तान ने पूरी तरह से अनदेखी की थी।

गौरतलब है कि साल अमेरिका ने पाकिस्तान में छिपे किसी आतंकी पर दूसरी बार ड्रोन से हमला किया है। इससे पहले 17 जनवरी को भी अमेरिका ने पाक-अफगान बॉर्डर पर हमला करके एक आतंकी मारा गिराया था। माना जा रहा है कि यह कार्रवाई अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के द्वारा नई अफगान नीति के तहत की जा रही है। आपको बता दें कि पाकिस्तान द्वारा अपने यहां छिपे आंतकियों पर कार्वाई न करने के कारण अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली 255 मिलियन डॉलर की सैन्य मदद पर भी रोक दी है। अब देखना ये है कि पाकिस्तान इस हमले से कितना सबक सिखता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.