भंसाली की पद्मावत को लेकर पूरे देश में विरोध जारी है। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बावजूद गुजरात में फिल्म को बैन करने का आदेश तो वहीं दसूरी तरफ राजस्थान सरकार भी फिल्म बैन करने की कोशिश में लगी हुई है। ऐसे मेें विरोधियों को भंसाली ने एक पत्र लिखा, लेकिन पत्र का जवाब भंसाली को कुछ ऐसा मिला,जिसकी वजह से उनके होश उड़ गये हैं। तो जानते हैं कि आखिर भंसाली को क्या जवाब मिला?

फिल्म पद्मावत का विरोध कर रही करणी सेना को भंसाली ने एक पत्र लिखकर कहा कि पहले आप फिल्म देखिये, उसके बाद कोई राय दीजिये। लेकिन करणी सेना ने भंसाली को झटका देते हुए कहा कि हम फिल्म नहीं देखेंगे, जहां भी पद्मावत लगेगी उस सिनेमाघर को ही फूंक डालेंगे। इतना ही नहीं, करणी सेना के इस धमकी से सिनेमाघर वालेंं भी डर गये हैं। बताते चलें कि फिल्म के विरोध में मॉल जलाने का भी मामला सामने आया है।

गौरतलब है कि फिल्म पर बढ़ते विवाद को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट में इसकी सुनवाई हुई लेकिन इसके बावजूद देशभर में जारी विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। बता दें कि करणी सेना ने कहा है कि 25 जनवरी को भारत बंद किया जाएगा, मतलब साफ है कि करणी सेना फिल्म को किसी भी हालत में रिलीज नहीं होने देगी। लेकिन विवादों के बीच एक बड़ा सवाल यह खड़ा होता है कि देश का कानून क्या करणी सेना के आगे झुक जाएगा?

भंसाली की पद्मावत को लेकर अभी न जाने कितने घमासान होने बाकी है, ये तो खैर वक्त ही बताएगा, लेकिन एक बात तो तय है कि इन विवादों की वजह से भंसाली की टेंशन बढ़ी हुई है। बहरहाल, भंसाली की फिल्म रिलीज होगी तो औऱ कितना विरोध देखने को मिलेगा, इस पर अभी कुछ कहना गलत होगा, लेकिन इन तमाम विरोधों की वजह से देश की जनता सहमी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.